तलाक….तलाक ….तलाक




ब्रिटेन के इतिहास में पहली बार हुआ जब किसी समूह से हटने के लिए राष्ट्र स्तर पर जनमत संग्रह कराया गया हो। इस जनमत संग्रह में ब्रिटेन की जनता ने देश को यूरोपीय संघ से हटने के समर्थन में वोट किया है। तत्कालीन जनमत संग्रह के परिणामों के अनुसार कुल वोटरों में 52% यूरोपीय संघ से हटने के लिए और 48% यूरोपीय संघ में बने रहने के लिए वोट किया। britten quit European Union

हालंकि, जनता के द्वारा की गई जनमत से ब्रिटेन भविष्य में अब यूरोपीय संघ का सदस्य नहीं बना रहेगा किन्तु फ़िलहाल ब्रिटेन यूरोपीय संघ का सदस्य देश बना रहेगा। विषेशज्ञों का कहना है की इस प्रक्रिया को पूरा होने में 2-3 साल लग जायेंगे। इस बाबत ब्रिटेन 2020 तक यूरोपीय संघ से अलग हो पाएगा। britten quit European Union

देश में बदलते रुख को देखते हुए ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरून के लिए अब सत्ता को बचना मुश्किल हो जाएगा क्योंकि जब तक ब्रिटेन यूरोपीय संघ से विभाजित होगा तब तक ब्रिटेन में आम चुनाव हो जाएगा। ऐसी स्थिति में डेविड कैमरून के लिए सत्ता पर काबिज रहना अथवा पुनः चुनाव में विजय श्री मिलना मुश्किल भरा काम रहेगा। britten quit European Union

ब्रिटेन 2020 तक यूरोपीय संघ से अलग हो पाएगाbritten quit European Union

आपको बता दें ये मतदान कल सुबह से प्रारभ होकर आधी रात तक चली । इस चुनाव में तक़रीबन 30 मिलियन लोगों ने हिस्सा लिया। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरून अपनी पत्नी सामंता के साथ वोट किया। उन्होंने लोगों से अपील किया कि ब्रिटेन की जनता को यूरोपीय संघ में ब्रिटेन के बने रहने के लिए वोट करना चाहिए लेकिन ब्रिटेन की जनता ने डेविड कैमरून की अपील को ठुकरा दिया है। जिससे ये पता चलता है की आने वाले आम चुनाव में डेविड कैमरून को जनता के विरोध का  सामना करना होगा। britten quit European Union

यदि बात की जाये अर्थव्यस्था की तो युोरपीय संघ से अलग होने के बाद ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था कमजोर होगी। ऐसा देखा भी गया कि कल जब जनमत संग्रह प्रारम्भ हुआ तो डॉलर्स के मुकाबले पौंड में 3% की गिरावट आई और देर रात तक इसमें 6.5% की गिरावट आई ।

मोदी के डर से ब्रिटेन ने पाकिस्तान को नहीं दिये 350 करोड़ रूपये 

इस मामले में बैंक ऑफ़ ब्रिटेन कोई ठोस कदम उठा सकती है किन्तु सलाहकारों का मानना है कि यदि ब्रिटेन ने अपने अर्थव्यस्था में तत्कालीन कोई सुधार नहीं  किया तो ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था को मंदी के दौर से गुजरना होगा। ऐसी स्थिति में डॉलर्स के मुकाबले पौंड में तेजी से गिरावट आएगी। britten quit European Union

यदि बात की जाए डेविड कैमरून की तो उनके लिए केवल लंदन और स्कॉटलैंड की जनता ने समर्थन में वोट किया। यूरोपीय संघ के देशों पर भी इसका बुरा असर पड़ने वाला है क्योंकि ब्रिटेन यूरोपीय संघ का मुख्य सदस्य है। britten quit European Union

( प्रवीण कुमार )




Web Statistics