मुसलमानों को जलाने पर कांग्रेस ने जताया एतराज



कांग्रेस नेता मीम अफ़ज़ल के ऐसे बयान के बाद पुरे देश भर में उनकी निंदा हो रही हैं लोग यह कह रहे हैं की जब मुसलमानो का कोई मज़हब नहीं होता तो फिर उन्हें दफनाया ही क्यों जाना चाहिए उनके शव को जलाया भी तो जा सकता हैं। congress criticised modi govt

2019 में मुझे प्रधानमंत्री बनाओ, मैं मोदी से अच्छा काम करके दिखाऊंगा : आजम खान

दरअसल, बात यह हैं की ज़ी न्यूज़ के एक प्रोग्राम ताल ठोंक में आतंकियों के अंतिम संस्कार पर बहस चल रही थी उस वक़्त मीम अफ़ज़ल पैनल में मौजूद नहीं थे उन्होंने फोन पर अपनी राय रखी। जिसके बाद से चारो ओर से उनकी कड़ी आलोचना हुई। congress criticised modi govt 

ज़ी न्यूज़ के एक प्रोग्राम ताल ठोंक congress criticised modi govt 

कांग्रेसी नेता मीम अफ़ज़ल की बातो से यह साफ़ ज़ाहिर हो रहा था की मुसलमानो का एक धर्म होता हैं। उन्होंने कहा हैं की इस्लाम में यह माना जाता हैं की आदमी को दफनाने के बाद पापी के भी पाप ख़तम हो जाते हैं और उसे जन्नत नसीब होती हैं। congress criticised modi govt 

मीम अफ़ज़ल का मतलब यह था की आतंकियों को उनके पाप की सजा मिलनी चाहिए लेकिन वह उनके शव को दफनाने की बात कह कर उनके पाप को धोना और उन्हें जन्नत भी भेजना चाहते है चाहे वह आतंकी ही क्यों न हो। उनका कहना था की आतंकियों के शव को जलाने से इस्लाम और भारतीय मुसलमानो की भी भावनाओ को आहात पहुचेगी। congress criticised modi govt 
( सलोनी पांडेय )




Web Statistics