तीन तलाक पर कांग्रेस चली मोदी सरकार की राह




तीन तालक मुद्दे पर कांग्रेस ने अपना पक्ष सुरक्षित रखा है, मोदी सरकार और मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के बीच चल रही खीचातानी के बीच कांग्रेस ने इस मुद्दे से अपने को अलग और सुरक्षित रखा है। केंद्र सरकार तीन तलाक विषय के खिलाफ है और इस बाबत मोदी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका भी दायर की है। जिसमें मोदी सरकार ने महिलाओं के अधिकार को लेकर अपने पक्ष को रखा है। congress praises modi govt three divorce case 

मोदी सरकार का कहना है कि जब बात आती है महिलाओं के सम्मान की तो उसके साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा। देश में सभी को आजादी से जीने का हक है। फिर चाहे महिला अथवा पुरुष हो। मोदी सरकार को मुस्लिम महिलाओं का भी समर्थन मिला है। congress praises modi govt three divorce case 

सुप्रीम कोर्ट का फैसला मुस्लिम महिलाओं के हित में आने वाला है

वही मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मोदी सरकार के इस फैसले की कड़ी प्रतिक्रिया की है। मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने मोदी सरकार के इस फैसले का विरोध करते हुए बताया है की सरकार धर्म को कानून न समझें। मुस्लिम धर्म कानून के निहित है लेकिन कानून धर्म में दखलंदाजी न करे तो बेहतर होगा। congress praises modi govt three divorce case 

भारत मेरे पूर्वजों का घर है और मैं हाउस रेंट नहीं दूंगी : प्रियंका गांधी

वही ओवैसी ने भी मोदी सरकार के फैसले की आलोचना की है, उन्होंने कहा कि मुस्लिम धर्म में तीन तलाक आज से लागु नहीं हुआ है जो सरकार इसे अपराध मानती है। धर्म के मामले में मोदी सरकार दखलंदाजी न करे तो अच्छा होगा। congress praises modi govt three divorce case 

जबकि कांग्रेस का अब यू टर्न लेना इस बात का संकेत है की सुप्रीम कोर्ट का फैसला मुस्लिम महिलाओं के हित में आने वाला है। शायद, कांग्रेस पार्टी को भी इसका आभास हो चूका है कि मोदी सरकार का ये फैसला उचित है।  congress praises modi govt three divorce case 
( प्रवीण कुमार )




Web Statistics