2020 तक भारत विश्व का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क देश बन जाएगा : मोदी सरकार




तुषार भट्ट,
शनिवार को केंद्रीय सरकार के दो वर्ष पुरे होने पर राज्य रेल मंत्री मनोज सिंहं ने सरकार की उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि अगले तीन वर्षो का रोड मैप भी प्रस्तुत किया गया है और साथ ही उन्होंने कहा की नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में रेल की हालत पहले से सुधर गयी है।

राज्यमंत्री कहते है की कार्यालय में विभिन योजनाओं पर रेलवे सालाना 48 हजार करोड़ रूपए खर्च करती थी पर इस सरकार ने गत वर्ष एक लाख हज़ार करोड़ रुपए तक खर्च किया है और इस वर्ष सवा लाख करोड़ रुपए व्यय करने का लक्ष रखा है। मनोज सिंह ने कहा कि सरकार प्रयास कर रही है की वर्ष 2020 तक आरक्षण में प्रति सूचि को समाप्त कर उससे मांग के अनुरुप कर दिया जाये। यात्री जब चाहे अपनी सुनिश्चित सीट पा सके।

रेल मंत्री ने कहा की मथुरा के निकट रेलवे बाईपास बनाने की योजना तैयार की जा रही है जिस पर 100 करोड़ रूपए का खर्च होगा। इस योजना के पुरे हो जाने के बाद तीव्र गति की ट्रेनों को चलने का काम आसान हो जाएगा। गौरतलब है की 12 जून के बाद मथुरा पलवल के बींच 200 कम की गति से चलने वाली तलगो ट्रैन को चलाने की तयारी की जा रही है।



Web Statistics