मोदी के सामने सब नतमस्तक





इंटर स्टेट कौंसिल की 11 वी बैठक 10 साल बाद हुई है। यह बैठक स्पष्ठ रूप से मोदी की राष्ट्रिय विकास की निति को बढ़वा देने वाली मंशा को प्रदर्शित करती है। इस मीटिंग में सबसे बड़ी बात ये देखने को मिली की जो मुख्यमंत्री मोदी के धुर विरोधी माने जाते हैं उन्होंने भी मोदी से हंसकर गर्म जोशी से हाथ मिलाते देखे गए। inter state council meeting 

इस मामले में राजनीति के गुरुओं का कहना है की ये मोदी मैजिक है। जब कोई मोदी के सामने आता है तो उसके विराट व्यक्तित्व के सामने उन्हें शालीन बनना ही पड़ता है। जी हाँ सब जानते है की दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल हमेशा केंद्र सरकार के ऊपर तरह तरह के आरोप लगाते रहते हैं। यहां तक की दिल्ली के विकास का सबसे बड़ा बाधक जिन्हें कहते थे। inter state council meeting 

मोदी के समर्थन में आई प्रियंका गांधी

कयास तो यही लगाए जा रहे थे की केजरीवाल और मोदी एक दूसरे को इग्नोर करेंगे। जबकि इसके विपरीत दोनों ने हँसते हुए एक दूसरे से हाथ मिलाया। कई मामलों में दोनों धीरे धीरे बात करते भी देखे गए। यही बात बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार के साथ भी है। यहां तक की नितीश कुमार स्वयं को भारत के भावी प्रधानमंत्री के रूप में प्रोजेक्ट कर रहे हैं। inter state council meeting 

ये अपने आप को हर तरह से मोदी के आगे ले जाने की सोच रख रहे हैं। जैसे नितीश कुमार ने शराब बंदी गुजरात के तर्ज पर ही किया था लेकिन अब वो पूर्ण शराब बंदी करने में लगे हुए हैं। यहां के इस मीटिंग में पीएम मोदी से नितीश कुमार भी गर्म जोशी से मिलते नजर आये। inter state council meeting 

ये मोदी मैजिक है  inter state council meeting 

दोनों हंस हंसकर बात कर रहे थे। ऐसी ही बात हरीश रावत जो उत्तराखंड के मुख़्यमंत्री हैं उनके साथ भी देखने को मिला। ज्ञात हो अभी कुछ दिन पहले ही सर्वोच्च न्यायालय से हरीश रावत को यह कहते हुए सरकार बनाने को कहा की राष्ट्रपति शाशन उत्तराखंड में लगाना अनुचित है। inter state council meeting 

इस से में हरीश रावत और मोदी आपस में खूब घुलमिलकर बात करते हुए दिखे। नहीं आने वालों में उत्तर प्रदेश के मुख्य मंत्री अखिलेश यादव, बंगाल के मुख़्यमंत्री ममता बनर्जी और कर्नाटक के मुख्य मंत्री सिद्धारमैया इस मीटिंग में नहीं आये। गुजरात की आनंदी बेन पटेल और मध्यप्रदेश से शिवराज सिंह चौहान भी इसमें आये थे। inter state council meeting 

इस अवसर पर मुख्यमंत्रियों को सम्बोधित करते हुए पी एम ने केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की जम कर तारीफ़ की। पीएम ने आपस में मिलकर देश की विकास में साथ देने की अपील थी। उन्होंने इंटेलीजेंस के मामले में आपस सुचना शेयर करने को अहमियत देने का आगर्ह किया। उन्होंने कहा हमने पहले से अधिक पारदर्शी कामों को बनाया और बजट भी बढ़ाया है। बजट को खर्च करने पर उन्होंने जोड़ देकर सबके जुबान को एक तरह से बंद कर दिया। inter state council meeting 
( हरि शंकर तिवारी )




Web Statistics