यदि मोदी से कश्मीर नहीं संभलता है तो मोदी इस्तीफा दें : लालू यादव





कल सुबह तड़के 5:30 बजे घाटी में एक और आतंकी घटना को आतंकियों ने अंजाम दिया है। इस घटना में सुरक्षा बल के 18 जवान शहीद हो गए, जबकि जबाबी करवाई में सेना ने 5 आतंकियों को मार गिराया है। lalu slams  pm narendra modi 

बुरहान वाणी की मौत के बाद आतंकियों की ये सबसे बड़ी घटना है। सुरक्षा बलों ने क्षेत्र को पूरी तरह से सीज़ कर दिया है और पुरे इलाके की तलाश जारी है।

पीएम मोदी ने इस बाबत सेना को फरमान दिया है कि जो भी उचित कदम हो, उसे उठाया जाए और आतंकियों को मुँह तोड़ जबाब दिया जाए। उन्होंने घटना की निंदा करते हुए शहीद हुए सैनिकों के प्रति सवेंदना प्रकट की है। lalu slams  pm narendra modi 

पीएम मोदी ने कहा कि अब समय आ गया है की कश्मीर में लॉ एंड आर्डर के तहत आतंकियों पर करवाई करते हुए पड़ोसी देश को सबक सिखाया जाए।

हालांकि, पीएम मोदी ने देशवासियों को कश्मीर मुद्दे पर एकजुटता दिखाने का अनुरोध किया है किन्तु विपक्षी पार्टी के नेताओं ने उरी आतंकी हमले की आड़ में मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की है। देश के प्रमुख विपक्षी नेताओं ने पीएम मोदी की आलोचना की है। lalu slams  pm narendra modi 

पीएम मोदी आधुनिक विश्व के निर्माता है : संयुक्त राष्ट्र संघ

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने ट्वीटर हैंडल के जरिये कहा कि पीएम मोदी से कश्मीर नही सम्भल पा रहा है, देश क्या संभालेंगे ? जरुरत है की कश्मीर मुद्दे पर मोदी जबाब दें। उन्होंने ऐसा संकेत दिया है कि यदि पीएम मोदी से कश्मीर मुद्दे का समाधान नहीं होता है तो इस्तीफा दें।

वही कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने उरी हमले की निंदा करते हुए कहा कि कश्मीर में पीडीपी की सरकार के आने के बाद लॉ एंड आर्डर पूरी तरह से समाप्त हो चुकी है। महबूबा मुफ़्ती सरका र कश्मीर में शांति स्थापित करने में पूरी तरह से विफल हुई है।

जबकि आप सुप्रीमो केजरीवाल ने भी उरी हमले की निंदा की है उन्होंने कहा कि पीएम मोदी जी को इस मुद्दे पर पुनर्विचार करना चाहिए ताकि कश्मीर में और सैनिको को शहीद न होना पड़े।
कल की घटना के बाद एक चीज़ सार्वजानिक हो चुकी है कि पाकिस्तान, कश्मीर में अब भी आतंकी गतिविधि में शामिल है। ऐसे में पीएम मोदी को दो कदम उठाने की आवश्यकता है, पहला कश्मीर में ख़ुफ़िया एजेंसी को और सक्रिय किया जाए, सुरक्षा बलो को आधुनिक बुलेटप्रूफ जैकेट और कैप प्रदान की जाए।

दूसरा, पीएम मोदी को बलूच, सिंध, गिलगित और पाक अधिकृत कश्मीर की आजादी मुद्दे को विश्व पटल पर सक्रिय करने की आवश्यकता है। यदि पीएम मोदी ऐसा करने में सफल होते है तो पाकिस्तान पर काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकता है।
( प्रवीण कुमार )




Web Statistics