ममता बनर्जी ने हिंदुओं की भावना से किया खिलवाड़



पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हिन्दू धर्म के अनुयायिओं को आहत किया है। ममता ने बंगाल के सैकड़ो पूजा पंडाल स्थल पर स्थापित दुर्गा मूर्ति की जगह पर अपनी मूर्ति लगवाई है। हालांकि, बंगाल के लोग इसे ममतामयी का नाम दे रहे है पर कहीं न कहीं इससे हिन्दू धर्म के लोगों की भावना आहत हुई है। mamata banerjee insulting hinduism

ज्ञात रहे की 2011 से बंगाल में ममता की सरकार है और इस दरम्यां तृणमूल कांग्रेस ने मुस्लिम वर्ग को तो मनाया ही साथ में हिन्दू धर्म के जितने भी समिति है उस पर भी अपना अधिकार कर लिया। आज बंगाल की सभी पूजा समिति राजनीति का शिकार है। तृणमूल कांग्रेस जो चाहती है वही पूजा समिति को करना पड़ता है। mamta banerjee insulting hinduism   

आपको बता दें कि बंगाल मुस्लिम बहल राज्य है यंहा मुस्लिम आबादी अधिक है और ममता ने मुस्लिम के सहयोग से सरकार बनाई है। यदि बात की जाए कमलेश तिवारी के उस विवादस्पित बयान के बारे में तो वो दिन याद आता है जब बंगाल हिन्दू-मुस्लिम की आग में जल रहा था। mamata banerjee insulting hinduism    

इस घटना में 6 हिंदुओं की मौत हो गई थी

कमलेश तिवारी का बयान आजम खान के बयान के बाद आया था लेकिन आजम खान को गिरफ्तार नहीं किया गया वही कमलेश तिवारी को जेल में डाल दिया गया। कमलेश तिवारी के बयान के बाद बंगाल में मुस्लिम सम्प्रदाय के लोगों ने तक़रीबन 1 दर्जन हिन्दू घरों को आग के हवाले कर दिया था और इस घटना में 6 हिंदुओं की मौत हो गई थी।

मैं पीएम मोदी से अपने बयान के लिए माफ़ी नहीं मांगूगा : राहुल गाँधी

इस सबके बाबजूद ममता बनर्जी ने कोई एक्शन नहीं लिया न ही आरोपियों पर करवाई हुई। ममता का मुस्लिम प्रेम होने के बाद अब दुर्गा माँ का रूप धारण करना केवल और केवल दोहरी राजनीति का मापदंड है। यही नहीं पश्चिम बंगाल के चुनाव प्रचार के दौरान तृणमूल कांग्रेस के एक नेता ने कहा था कि बंगाल में मिनी पाकिस्तान झलकता है। ममता बनर्जी ने वैक्तिव बयान बताकर खुद को किनारा कर लिया था।   mamata banerjee insulting hinduism
( प्रवीण कुमार )




Web Statistics