पाकिस्तान ने किया था ढाका पर हमला




ढाका के एक रेस्तरां में हुए बम विस्फोट में आईएस का नहीं आईएसआई का हाथ है। आईएसआई के होने की बात स्वयं शेख हसीना ने कहीं है। भारत की ताऋषि जैन सहित मारे गए बीस विदेशियों के हत्या का जिम्मेदार पाकिस्तान की ख़ुफ़िया एजेंसी आई एस आई का हाथ सामने आया है। pakistan attacked bangladesh 

इस काम के लिए जमात ऐ मुज्जाहुद्दीन नामक क्षेत्रोय आतंकवादी संगठन का सहयोग लिया। बंगलादेश के प्रधानमंत्री ने कहा की भारत को लहू लुहान करने वाला पाकिस्तान ही बांग्लादेश में दहशत फ़ैलाने का काम कर रहा है pakistan attacked bangladesh 

बांग्लादेश के राजनितीक सलाहकार तौफीक हुसैन इमाम ने कहा की पाकिस्तान बांग्लादेश को बदनाम करने की साजिस शुरू से ही करता आया है। बांग्लादेश के गृहमंत्री आसदुजमा खान ने कहा की हमारे देश में अलकायदा एवम ISIS जैसे कोई संगठन नहीं है। pakistan attacked bangladesh 

पाकिस्तान ही बांग्लादेश में दहशत फ़ैलाने का काम कर रहा हैpakistan attacked bangladesh 

यह काम पाकिस्तान में एक स्थानीय आतंकवादी संगठन को पैसा देकर करवाया है। इस घटना की हम गहन जाँच कर रहे है और पता लगाने की कोशिश कर रहे है की आतंकवादियों को हथियार किस ने मुहैया कराया। pakistan attacked bangladesh 

मारे गए आतंकवादियों के नाम लोगों को भर्मित करते है। मारे गए आतंकवादियों के नाम आकाश, विकास, डॉन, रिपन आदि है। पुलिस प्रमुख एम के शहीदुल हक़ ने कहा कि मारे गये आतंकवादी की तस्वीर जारी कर दी गयी है। pakistan attacked bangladesh 

इस सात आतंकवादियों में से 6 मारे गए और एक जीवित पकड़ा गया। उसके आधार पर इस घटना में पाकिस्तान के आईएसआई के शामिल होने की पुष्टि की जा रही है। pakistan attacked bangladesh 

कौन कहता है कि इस्लाम शांति प्रिय धर्म है pakistan attacked bangladesh 

ज्ञात हो कि इस घटना में मारे गये आतंकवादियों की उम्र २4 से 28 वर्ष के बीच है। इस घटना में सबसे अधिक जापान के 7 नागरिक मारे गये। जापान के विदेश राज्यमंत्री सेइजी किहारा ने बांग्लादेश के प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात कर मामले की गम्भीरता को समझने की सलाह दी। pakistan attacked bangladesh 

ताइवान ने किया चीन पर हमला

प्रधानमंत्री ने जापानी राजयमंत्री को आश्वाशन दिया कि इस घटना में जिसका भी हाथ हो, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। प्रथम दृष्टिया इस घटना में पाकिस्तान का हाथ साफ़-साफ़ दिखाई दे रहा है।

ज्ञात हो तारुषि की खातिर उनके दो मुस्लिम मित्रों ने भी अपनी जान गवाई। इस जघन्य घटना पर बांग्लादेश के निष्काषित प्रसिद्ध लेखिका तस्लीमा नसरीन ने कहा कि कौन कहता है कि इस्लाम शांति प्रिय धर्म है। तस्लीमा नसरीन इस बयान का चारों तरफ खूब जय-जयकार हो रहा है। ज्ञात हो तस्लीमा नसरीन को भी जान से मारने के फतवे पहले ही कट्टरपंथियों ने जारी कर दिया था।  pakistan attacked bangladesh 



Web Statistics