चीनी माल न खरीदें





छत्तीसगढ़ की महिलाओं ने एक अनूठा प्रयास चीनी समानों का बहिष्कार करने के लिए किया  है। ये महिलाएं घर-घर जाकर लोगों को जागरूक कर रही है कि वो चीनी समान का बहिष्कार करें। please boycott chinese made products 

सोसल साइट पर एक अभी एक ट्रेंड चला है कि चीनी समान का बहिष्कार करें। इस मुहीम में देश भर से लोग शामिल हो रहे है और चीनी समान का बहिष्कार कर रहे है पर कुछ लोग इसका विरोध कर रहे है। please boycott chinese made products 

उनका मानना है कि यदि चीनी समान का बहिष्कार किया जाएगा, तो इस फील्ड से जुड़े सभी लोग बेरोजगार और कंगाल हो जाएंगे, लेकिन सोचने वाली बात ये है कि यदि हम यूँही चीन को व्यापार करने का मौका देते रहेंगे, तो वो दिन दूर नहीं है जब चीन भारत की अर्थव्यवस्था को दिवालिया कर देगी। इससे पहले की चीन हमें दिवालिया करे, हमें इस दीवाली से पहले चीनी समान का बहिष्कार कर चीन को दिवालिया कर दें। please boycott chinese made products 

केजरीवाल ने देशविरोधी काम किया है !

यदि बात की जाए तो चीनी समान के बहिष्कार करने से किसी का कारोबार या व्यपार नहीं डूबेगा, क्योंकि विदेशी व्यापार नीति के तहत यदि दो देशों के बीच व्यापार अथवा सीमा विवाद होता है, तो इस परिस्थिति में व्यापार में लगे लागत को लौटाने का प्रावधान है। इसलिए भारतीय कारोबारी को घबराने की जरुरत नहीं है। वैसे भी चीनी समान का बहिष्कार करने के बाबजूद भी इसे पूरी तरह बन्द होने में 6 महीने से अधिक लग जाएंगे। please boycott chinese made products 

हर एक हिंदुस्तानी चीन के समान का स्वेच्छा से बहिष्कार करें

यदि भारत की जनता चीन समान का बहिष्कार कर चीन को सबक सिखाने में सफल हो गए तो ये चीन पर बड़ी जीत होगी। चीन भले ही व्यापार भारत से करता है किन्तु वो हमेशा से पाकिस्तान के समर्थन में आवाज उठाता रहा है। please boycott chinese made products 

वही चीन की विदेशी नीति पर ध्यान दिया जाए तो पता चलता है,  चीन हमें कंगाल कर अपना अधिपत्य हमपर जताना चाहता है। आज जरुरत है की हर एक हिंदुस्तानी चीन के समान का स्वेच्छा से बहिष्कार करें, ताकि दुश्मन की मदद करने वाले आस्तीन के सांप को पता तो चले की उसने किस बिल में हाथ डाला है। please boycott chinese made products  
( प्रवीण कुमार )




Web Statistics