paytm ने दी अपने यूज़र्स को चेतावनी, paytm हो सकता है हैक

हाल ही में paytm द्वारा एक नोटिफिकेशन जारी किया गया है। जिसमे लिखा है यूजर्स को KYC के लिए ऐनीडेस्क या क्विकसपॉर्ट जैसे ऐप डाउनलोड नहीं करने है। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि इन ऐप्स के जरिए जालसाज यूजर के अकाउंट से पैसों की चोरी कर सकते हैं।

जानें कब-कब बॉलीवुड स्टार्स बने आर्मी ऑफिसर

साथ ही साल कि शुरुआत में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी वॉर्निंग जारी कर लोगों को इन ऐप्स से सावधान रहने को कहा था। इतना ही नहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए देश के कुछ बैंक जैसे एचडीएफसी, आईसीआईसीआई और ऐक्सिस ने भी ग्राहकों को इन ऐप्स को डाउनलोड ना करने की सलाह दी थी।

बताते है आपको की कैसे होता है आपके साथ यह फ्रॉड दरअसल जालसाज अपने शिकार को एक फर्जी बैंक एग्जिक्यूटिव बनकर फोन करते हैं। इतना ही नहीं वे कहते हैं कि उनके द्वारा बताए गए स्टेप्स को फॉलो ना करने पर नेट बैंकिंग की सुविधा ब्लॉक हो सकती है। ब्लॉक होने की बात सुनते ही ज्यादातर ग्राहक इन जालसाजों के चंगुल में फंस जाते हैं।

फिर ग्राहक को अपने झांसे में लेने के बाद ये ठग रिमोट ऐप (ऐनी डेस्क या टीमव्यूअर) इंस्टॉल करने को कहते हैं। ऐप के इंस्टॉल होने के बाद वे अपने शिकार से वेरिफिकेशन के लिए आए 9 अंक वाले कोड की मांग करते हैं। यही वह कोड है जिसके सहारे ये जालसाज अपने शिकार के डिवाइस का फुल ऐक्सेस पा जाते हैं। और सारे एकाउंट्स डिटेल्स निकाल लेते है।

ये घरेलु उपचार दिलाएंगे डेंगू से राहत

इस फ्रॉड से बचने का बस एक ही तरीका है की आप यह बात जानले कि कभी भी कोई बैंक अपने ग्राहक को फोन कर कोई ऐप डाउनलोड करने को नहीं कहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *