आज मनाया जा रहा है गंगा दशहरा, जानिए कथा एवं इतिहास

गंगा दशहरा हिन्दू धर्म का एक प्रमुख त्यौहार है। यह पर्व प्रत्येक वर्ष ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की दशमी को मनाया जाता है। तदनुसार, इस वर्ष गंगा दशहरा 12 जून 2019 को मनाया जायेगा।devotional ganga dussehra

स्कन्द पुराण में वर्णित है कि ज्येष्ठ माह में शुक्ल पक्ष की दशमी के दिन पवित्र नदियों में स्नान एवम दान करने से महापातकों के बराबर पापो से मुक्ति मिलती है। वर्तमान समय में इस दिन हरिद्वार में गंगा नदी के घाटों पर पतंगबाजी का भी विशेष आयोजन देखा जा सकता है।

सलमान खान की छोटे पर्दे पर वापसी, नच बलिए 9 में एक्स कपल्स को लाएंगे एक साथ

गंगा दशहरा की कथा

प्राचीन काल में अयोध्या में सगर नामक एक प्रतापी राजा रहता था। जिसने सात समुद्र को जीत लिया था। उनकी दो रानियाँ थी एक रानी से एक पुत्र तथा दूसरे रानी से 60 हजार पुत्र की प्राप्ति हुई थी। एक बार राजा सगर ने अश्वमेध यज्ञ किया तथा यज्ञ को सफल करने के लिए उन्होंने एक अश्व को छोड़ा। devotional ganga dussehra

किन्तु स्वर्ग के स्वामी ने इस यज्ञ को भंग करने के लिए उस अश्व का हरण कर लिया और अश्व को कपिल मुनि के आश्रम में बाँध आए। अश्व की खोज के लिए राजा सगर ने अपने 60 हजार पुत्रों को भेजा। जब राजा के पुत्रों ने पिता द्वारा छोड़े गए अश्व को कपिल मुनि के आश्रम में देखा तो सभी लोग चोर-चोर चिल्लाने लगे। devotional ganga dussehra

पूरी कथा पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *