शुरू हो गया सावन, सड़कों पर दिखा कांवड़ियों का तांता

इस वर्ष सावन की शुरूआत 17 जुलाई से हो जाएगी. इसको लेकर हर प्रकार से तैयारियां हो चुकी है. आपको बता दें कि, हिन्दू धर्म में सावन को सबसे पवित्र महीने का दर्जा दिया जाता है. इसे भगवान शिव का महीना कहा गया है. शास्त्रों के अनुसार प्राचीन काल में देवों ने असुर नाविकों, योद्धाओं, श्रमिकों की सहायता से समुद्र-मंथन का संयुक्त अभियान सावन के महीने में ही आरंभ किया था. sawan 2019

आपको बता दें कि, शिवभक्तों द्वारा सावन के महीने में पवित्र गंगा जल लेकर भारत के विभिन्न ज्योतिर्लिंगों और शिव मंदिरों में अर्पित करने की परंपरा चली आ रही है. भक्त पवित्र जल के कांवर के साथ ‘बोल बम’ का नारे लगाते हुए सैकड़ों मील की पैदल यात्रा कर मंदिर पहुंचते हैं.

एक क्लिक में पाएं सरकारी नौकरियाँ | 17th July 2019

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस वर्ष सावन माह के मद्देनजर देखते हुए रेलवे ने ट्रेनों में कोच बढ़ाने का निर्णय लिया है. 17 जुलाई से 31 जुलाई तक ये ट्रेन 30 चक्कर लगाएगी. ये ट्रेन रामपुर मनिहारन, टपरी, रुड़की और ज्वालापुर स्टेशनों पर अप व डाउन में रुकेगी. इसके अलावा श्री माता वैष्णो देवी कटरा, ऋषिकेश श्री माता वैष्णो देवी कटरा हेमकुंड साहिब एक्सप्रेस और बाडमेर हरिद्वार लिंक एक्सप्रेस को मोतीचूर स्टेशन पर दो-दो मिनट का अतिरिक्त ठहराव बढ़ाया गया है.

आपको बता दें कि, हरिद्वार से पवित्र गंगा जल लेकर आने वाले शिवभक्तों की सुविधा के लिए कांवड़ मार्गों पर पड़ने वाले मंदिरों के द्वार खुले रहेंगे. इन मंदिरों को श्रावणी मेला शुरू होने से पहले सजाया जा रहा है और सफाई का इंतजाम भी किया जा रहा है. संवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगने का प्लान है जिससे पल-पल की गतिविधियां कैद किया जा सके. sawan 2019

घी के फायदे जानकर दंग रह जायेंग

हरिद्वार से करोड़ों शिवभक्त पवित्र गंगा जल लेकर आते हैं. बुधवार से सड़कों पर हर-हर महादेव और बोल बम के जयकारे के साथ शिवभक्त कांवड़ियों का सैलाब नजर आएगा. पुरणों के अनुसार कहा जाता हैं की सावन में शिव की सच्चे भाव से पूजा करने से भगवान अपने भक्तों पर जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और उनकी हर मनोकामना को पूरा करते हैं. sawan 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *