हिन्दी और अंग्रेजी के अलावा अब 13 क्षेत्रीय भाषाओं में बैकिंग की परीक्षा दे पाएंगे छात्र

देशभर में बैकिंग की परीक्षाओं में लाखों की संख्या में छात्र भाग लेते है. अभी तक बैंकिंग की परीक्षा हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में ही होती थी लेकिन अब सरकार ने 13 क्षेत्रीय भाषाओं में भी बेकिंग की परीक्षाए कराने की दक्षिण भारत के सांसदों की मांग को मान लिया है. गुरूवार यानि 4 जुलाई को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभ में कहा कि बेंक की परीक्षाएं अब से 13 क्षेत्रीय भाषाओं में होंगी. bank exam pattern

साथ ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि स्थानीय भाषाओं बैंकिंग की परीक्षाएं कराने की मांग की कर्नाटक सहित दक्षिण भारत के सांसदों की मांग को सरकार ने मान लिया है. वहीं इससे पहले इस मामल में निर्मला सीतारमण ने कहा था कि दक्षिण भारत राज्य के कुछ सासदों ने यह मांग रखी है कि बैंक भर्ती के परीक्षाएं स्थानीय भाषाओं में कराई जाए. इस बारे में मंत्रालय विचार- विमर्श कर रहा है. bank exam pattern

शाहिद की ‘कबीर सिंह’ ने रीलीज़ के 13 दिन में 200 करोड़ का सफर किया तय

इसके साथ ही वित्त मंत्री ने कहा था कि यह एक गंभीर मसला है और मैं इस पर गौर करूंगी और संसद में इस मामले पर जवाब दूंगी. आपको बता दें कि आज यानि गुरूवार को राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान यह मुद्दा कांग्रेस पार्टी के नेता के जी. सी. चंद्रशेखर ने उठाया था. उन्होने बैंक में भर्ती और अन्य परीक्षाओं को स्थानीय भाषाओं में कराने का अनुरोध किय था और अपनी बात कन्नड़ भाषा में रखी थी. bank exam pattern

कांग्रेसी नेता के जी सी चंद्रशेखर ने कहा था कि बैंकिंग सेवा परीक्षा और अन्य भर्ती परीक्षाएं अंग्रेजी और हिंदी में ली जानी चाहिए. साथ ही स्थानीय प्रतिभागियों की सुविधा को देखते हुए इन परीक्षाओं का आयोजन कन्नड़ भाषा में भी किया जाना चाहिए. गौरतलब है कि अब जैसा की सरकार ने बैकिंग की परीक्षाओं को 13 स्थानीय भाषा में कराने की मांग को मान लिया है और अब बैंकिंग की परीक्षाएं छात्र 13 क्षेत्रीय भाषाओं में दे पाएंगे.

वजन घटाने का सबसे आसान और सुरक्षित तरीका

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *