कैसे करें बैंकिंग सेक्टर में जाने की तैयारी

आईये आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की अगर आप बैंकिंग सेक्टर में जाना चाहते है तो आपको किन किन बातों पर ध्यान देने की जरुरत है. bank exam preparation

जी हाँ बैंक में नौकरी की रूचि रखने वाले अभ्यर्थी सबसे पहले बैंकिग सेक्टर के परीक्षाओं की तैयारी की रणनीति पर रिसर्च करें पुराने परीक्षाओं में पूछे गए सवालों के जवाब को रट्टा लगाने मात्र से आप इस कम्पीटीशन को कभी भी पास नहीं कर पाएंगे क्योंकि अब एग्जाम का तरीका बदल गया है. bank exam preparation

पहले प्रश्नपत्र पेपर पर प्रिंट किये जाते थे लेकिन अब सबकुछ डिजिटल हो गया है. आज का क्वेस्चन बनाने वाले पैनल पहले जैसे नहीं है और अब न ही सरकारी अधिकारीयों द्वारा प्रश्नपत्र बनाये जाते है अब इसे भी पीपीपी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनर ) सिस्टम के तहत अलग अलग कंपनियों को कॉट्रेक्ट बेसिस पर डिजिटल पेपर तैयार करने के लिए दे दी गयी है जहाँ कई थर्ड पार्टी इन्वोल्व होते है. bank exam preparation

डायबिटीज़ वालों परेशान न हो कड़वा बादाम आपको दिलाएगा शुगर से मुक्ति

इसलिए ये नए लोग हैं ये लोग पहले वाले ढर्रे पर नहीं चल रहे है तो सबसे पहले इन लोगों के दिमाग को समझने की कोशिश करनी होगी जिस विधि को वे अपनाते है उसे समझने के लिए ध्यान  केंद्रित करने की जरूरत हैं, इसके लिए आपको भी 100% डिजिटल सोच का बनना होगा. क्योंकि परीक्षाओं के स्तर प्रति वर्ष और कठिन होते जा रहे हैं . ऐसे में इस सेक्टर में कम्पीटीशन लेवल काफी हाई हो गया है.  बैंकिंग सेक्टर में कैरियर बनाने के लिए अधिकतर उम्मीदवार प्रयास करते हैं. उम्मीदवार, विभिन्न शाखाओं से – बैंक क्लर्क, प्रोबेश्नरी ऑफ़िसर (PO), स्पेशलिस्ट ऑफ़िसर (SO) आदि- रिक्त पदों के लिए आवेदन करते हैं.

लेकिन यहां सबसे बड़ा सवाल ये है कि आख़िर एक सामान्य स्तर का उम्मीदवार इन भर्ती परीक्षाओं के लिए किस प्रकार तैयारी करे की वो सफल हो सके. SBI, IBPS या NABARD, सभी के लिए एक ही समान तैयारी और स्टडी प्लान भी सही नहीं है, इसलिए आप तैयारी करते समय ध्यान दें की जिस बैंक का आपने फॉर्म भरा है उसके संस्थापक कौन थे और वह बैंक कब कहाँ और कैसे सुरु किया गया और उक्त बैंक के कार्यों में कब क्या बदलाव आये और क्या क्या फायनेंसियल उतार चढाव आये. इसके आलावा करंट अफेयर के जनरल नवलेज को याद कर लें तो आप बैंकिंग सेक्टर में नौकरी आसानी से पा लेंगे. ये सभी पहलू आपके लिए लिखित परीक्षा में सफल होने के लिए सहायक होते हैं.

अगर हम टाइप आफ एग्जाम की बात करें तो आईबीपीएस डिपार्टमेंट एग्जाम दो भागों में करवाता है. पहला होता है – प्री एग्जाम (Preliminary Exam) तथा दूसरा मेन एग्जाम (Mains) का होता है. bank exam preparation

* IBPS प्री एग्जाम में कुल 100 अंक के 100 प्रश्न आते हैं जिसमे रीजनिंग, मात्रात्मक योग्यता और अंग्रेजी विषय होते हैं और इसमें सभी प्रश्न Objective टाइप के होते है.

*  IBPS मैन एग्जाम के पैटर्न में रिजनिंग, डेटा विश्लेषण, व्याख्या, सामान्य ज्ञान और अंग्रेजी विषयों से प्रश्न पूछे जाते है, यह एग्जाम 200 अंकों का होता है. इसके अलावा आईबीपीएस मेन एग्जाम में कुल 200 अंक के 200 प्रश्न होते हैं. जिसे पूरा करने के लिए परीक्षा का समय कुल 3 घंटे का होता है.

इन सबको देखते हुए आप एक लाइन में ये समझ लें की बैंकिंग की तैयारी के लिए जो सबसे महत्वपूर्ण है “Time management”. जी हां बैकिंग परीक्षाओं में सफलता पाने के लिए Time management बहुत ही जरूरी है. अत: प्रत्येक विषय के लिए निर्धारित समय बनाए और विषय के महत्त्व और कठिनाई के अनुसार इस पर ध्यान दीजिये और विषयों की प्राथमिकता के आधार पर अध्ययन करें.

प्रियंका बोलीं- हमें मिलेगा हमारी मेहनत का फल | पूरी खबर पढ़ें अभी

इसके लिए सबसे अच्छा रहेगा की आप पढ़ाई करने का एक टाइम टेबल बनाएं जो आपके समय को व्यवस्थित करने में सहायता कर सकती है. इसके अलावा प्रश्नों को हल करते समय ध्यान दें कि आपने एक प्रश्न को हल करने में कितना समय लिया. इस तरह “Time management” आपको बैंकिग की परिक्षाओं में मददगार साबित होगा. bank exam preparation

निरंतर प्रश्नों  का अभ्यास करना बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे आप विषय को बेहतर ढंग से समझ पाते हैं. साथ ही नियमित अभ्यास करने से प्रश्नों को हल करने की गति में भी बढ़त होती है और समय पर परीक्षा में  पूछे गए सभी पश्नों के जवाब  देने का कांफिडेंस बढ़ता है.

कई छात्र होते है जो बैंकिंग परीक्षा उतीर्ण तो कर लेते है पर  इंटरव्यू में  फिसल जाते है. इसके लिए जब आप इंटरव्यू में जाएं तो इंटरव्यू की पूरी तैयारी करके जाएं. इंटरव्यू के दौरान आप इस बात का ध्यान रखें कि, आप पूछे गए प्रश्न का सटीक और सही उत्तर दे सकें.

अपने उत्तर को ज्यादा लंबा करने की कोशिश न करें. इंटरव्यू के दौरान अपना आत्मविश्वास बनाए रखे और घबराएं नहीं. साथ ही जब आप इंटरव्यू के लिए जाएं तो फार्मल कपड़े ही पहन कर जाए अन्यथा इंटरव्यूवर के मन में आपके प्रति नेगेटिव विचार उतपन्न हो सकता है. इंटरव्यू में आपका बॉडी लेंग्वेज और आपके बोलने की शैली इंटरव्यूवर को प्रसन्न कर सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *