पार्टीशन के एक गवाह ने कहा, ‘सलमान ने हमारा दिल छू लिया’

“सलमान खान के इस भाव ने हमारा दिल छू लिया है”, भारत की विशेष स्क्रीनिंग के दौरान 1947 पार्टीशन के एक गवाह ने साझा किया।

भारत पहले ही अपनी ओपनिंग के दिन सबसे अधिक कमाई के साथ सलमान खान के लिए रिकॉर्ड स्थापित कर चुकी है। साथ ही, यह फिल्म अब तक की दूसरी सबसे बड़ी ओपनर फ़िल्म बन गई है और अब भी बॉक्स ऑफिस पर अपनी मजबूत पकड़ बनाये हुए है। इस सफ़र को और भी अधिक खास बनाने के लिए, सुपरस्टार ने उन परिवारों के लिए एक विशेष स्क्रीनिंग की मेजबानी की, जिन्होंने 1947 में पार्टीशन के युग के माध्यम से सफ़र को करीब से देखा था।

इस यादगार शाम को ‘1947 पार्टीशन आर्काइस’ नामक संगठन के साथ विशेष सहयोग में आयोजित किया गया था। भारत की अपार सफलता से खुश होकर, सलमान खान ने उन सभी वास्तविक परिवारों के लिए एक विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया, जो 1947 पार्टीशन के साक्षी रह चुके है और इस कार्यक्रम में 75 से 85 वर्ष की आयु के बुजुर्ग उपस्थित थे। इस फिल्म की कहानी की तरह ही उस समय भी ऐसे सात परिवार थे, जो अलग-अलग समय पर भारत वापस आए और समय के साथ उनका पूर्णमिलन भी हुआ। ज़िन्दगी के इन असली हीरों ने सुपरस्टार सलमान खान और कैटरीना कैफ के साथ विशेष स्क्रीनिंग का आनंद लिया जहां सभी अपने भावनात्मक अनुभव भी साझा करते हुए नज़र आये। salman 1947 partition screening

“आमिर खान” की बेटी “ईरा खान” ने अपने रिलेशनशिप का किया खुलासा

सलमान खान ने भी इस विशेष स्क्रीनिंग से कुछ पलों को अपने आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल पर साझा करते हुए लिखा,”साल 1947 के इवेंट और पार्टीशन का अनुभव करने वाले वास्तविक परिवारों के लिए #Bharat की विशेष स्क्रीनिंग का आयोजन किया गया था। उन सभी से मिल कर खुशी महसूस हो रही है। #Bharat के असली परिवारों को सलाम है।” इस मुलाकात में, सलमान ने सुनिश्चित किया कि वह व्यक्तिगत रूप से प्रत्येक किस्से को सुने।

स्क्रीनिंग से अभिभूत, ऐतिहासिक विभाजन के एक गवाह अटू रेलवानी ने साझा किया “सलमान खान के इस भाव ने हमारा दिल छू लिया है। भारत देखते वक़्त मेरी आंखे नम थी, खासकर जब ट्रेन का सीन आया। मैं तभी नौ साल का था, जब हमने ठीक इसी तरह हैदराबाद से ट्रेन में सफ़र किया था। भारत की कहानी रियल और दिल को छू लेने वाली और सलमान ने इसे और अधिक खास बना दिया है।” salman 1947 partition screening

बेस कीमती है जामुन के बीज इसे न फेकें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *