बजट में कटौती करने पर मजबूर पाक़

पाकिस्तान की हालत बहुत ही गंभीर होती हुई नज़र आ रही है और पाकिस्तान का आर्थिक संकट बढता ही जा रहा है. आपको बता दें की पाकिस्तान की सेना ने देश के बिगड़ते आर्थिक व्यवस्था को लेकर इस साल देश के बजट में कटौती करने का फिसला लिया है. वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा की सेना ने आर्थिक संकट से निपटने में मदद के लिए यह फैसला लिया है. हालांकि इसकी पुष्टि करते हुए पाक सेना की इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने मंगलवार को एक ट्वीट किया कि आगामी वित्त वर्ष के लिए रक्षा बजट में स्वैच्छिक कटौती सुरक्षा की कीमत पर नहीं होगी। pakistan pm imran khan

वहीं आसिफ गफूर ने कहा देश के बिगड़ते हुए आर्थिक इस्थिति को लेकर कहा की एक वर्ष के लिए रक्षा बजट में स्वैच्छिक कटौती सुरक्षा की कीमत पर नहीं की जा सकती और उन्होंने ये भी कहा की हम सभी प्रकार के खतरों के जवाब में प्रभावशाली प्रतिक्रिया देते रहेंगे और तीनों सेनाओ उचित आंतरिक कदमों से कटौती के प्रभाव का इंतेज़ाम  करेंगी. इस सभी बात की जानकारी गफूर ने ट्विटर पे ट्विट कर दी. pakistan pm imran khan

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

साथ ही यह भी कहा गया है की बजट की कटौती सेना को नहीं दी जाएगी. वही इमरान खान ने पाक सेना की तारीफ करते हुए कहा की वित्तीय स्थिति के मद्देनजर पाकिस्तानी सेना ने अपने रक्षा खर्च में कटौती करके जो अभूतपूर्व स्वैच्छिक पहल की है, वह काबिलेतारीफ है, वह इस कदम के लिए शुक्रगुजार हैं और यह कदम देश के सामने मौजूद कई सुरक्षा चुनौतियों के बावजूद उठाया गया है। इमरान ने कहा की पाक इस चुनौती से भी लड़ने को तैयार है.

वही पाकिस्तान के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री फवाद चौधरी ने भी इस इस बात पर अपनी प्रतिक्रया देते हुए है कहा कि यह कोई छोटा कदम नहीं है, केवल एक मजबूत सैन्य-असैन्य सहयोग ही पाकिस्तान को शासन एवं अर्थव्यवस्था की बड़ी समस्याओं से बचा सकता है। इससे यही पता चलता है की चाहे पाक की अर्थव्यवस्था कितनी भी ख़राब हो पर वो सेनाओ के किसी भी कार्यो में कटौती नहीं करेगी. pakistan pm imran khan

आज दिनभर की बड़ी ख़बरें | 5th June 2019

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *