भोजपुरी औऱ हिंदी लेखनी के लाल -लाल बिहारी लाल



श्री लाल बिहारी लाल का जन्म बिहार के छपरा जिला में 10 अक्टूबर 1974 को हुआ था श्री लाल साहित्य,पत्रकारिता एवं समाज सेवाके अजब मिसाल हैं। आज जहां कुछ लोग समाज सेवा का चोला ओढ़ कर दुनिया की नज़रोंमें धूल झोंकने मे लगेहैं वहीं कुछ व्यक्ति ऐसे भी हैं जो निस्वार्थ भाव से देश और समाज की सेवा में लगेहैं। जिनका एक मात्र उद्देश्य समाज हित है। समाज के लिए कुछ करने का इनका जुनून इसहद तक बढ़ जाता है कि वह अपनी जीवका का साधन जुटाने के बजाय समाज और देश हित केप्रति समर्पित हो जाते हैं।ऐसे ही समाज सेवी,कवि और लेखक लाल विहारीलाल जिन्होंने अपनी सादगी और समाज के प्रति सेवाभाव के अजब मिसाल कायम की है।इनके कई गीत विभिन्नसंगीत कंपनियों से भी निकल चुके है। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

पत्र- पत्रकाओं में लेखों के माध्यम से भी स्वच्छता,पर्यावरण,जल ही जीवन है bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

लाल बिहारी लाल समय समयपर सामाजिक कार्यक्रमों के माध्यम से लोगों को जागरूक करते रहते हैं। श्री लालसमाज सेवा के अलावा पर्यावरण संरक्षण के लिए भी विभिन्न कार्यक्रम और काव्यसंगोष्ठी आयोजित करपर्यावरण संरक्षण के प्रति समाज मे महत्वपूर्ण जिम्मेदारीनिभा रहे है। वन बचाओ पेड़ लगाओ जल ही जीवन है के तहत इनका मानना है कि जल है तो कलहै एवं स्वच्छ रहो स्वास्थ्य रहो आदि स्लोगन से लोगों को जागरूक करते रहते है।विभन्न पत्र- पत्रकाओंमें लेखों के माध्यम से भी स्वच्छता,पर्यावरण,जल ही जीवन है तथा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ,नदियों की सफाई तथा जलसंरक्षण आदि की झलक इनकी लेखन में देखने को मिलती है। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

लालजी ने बदरपुर क्षेत्र मे विकास कार्यों को लेकर भी काफी संघर्ष किया है चाहे वहयातायात की समस्या हो या सड़कों पर गड्ढों की या बारिश के दिनों मे जल भराव कीसमस्या हो निरंतर अपनी लेखनी के माध्यम से या प्रत्यक्ष रूप से अधिकारियों सेमिलकर लोगों की समस्यों को दूर करने मे दिन रात लगे रहते हैं।लाल बिहारी लाल जी कीरचनाएं(क्रांति कविता) आज भी नालंदा विश्विद्यालय के एम.ए. के अलावा बिहार विश्वविद्यालय के बी.ए. में पढ़ाई जा रही हैं। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

घऱ बैठे ही समस्या का समाधान हो सके। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

44वर्षीय लाल विहारी लाल जीस्वयं तो पिछले कई वर्षों से समाज कार्य में जुटे ही हैं साथ ही उनकी पत्नी एवंबच्चें भी इनके सामाजिक कार्यों में पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। बदरपुर क्षेत्र मेंलोगों को अपने दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए काफी दिक्कतों का सामना करना पड़रहा था जैसे राशन कार्ड आधार कार्ड या अन्य सरकारी कामों के लिए या तो लोगों कोकार्यालय जाना पड़ता था या फिर स्थानीय नेताओं से मदद की गुहार लगानी पड़ती थी ।इससे छुटकारा दिलाने के लिए उन्होंने बदरपुर दिग्दर्शिका तैयार की है जो 2017 केबाद 2018 में भी निकाला है।। इस दिग्दर्शिका में क्षेत्र से संबंधित अधिकतरकार्यालय व अधिकारियों के टेलीफोन नंबर व उनकी ई मेल आईडी भी उपलब्ध कराई हैजिससे लोगोंको कार्यालय के अनावश्यक चक्कर ना लगाने पड़ें और घऱ बैठे ही समस्या का समाधान हो सके। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

देखिए कृष्णा श्रॉफ के हॉट विडियो पर टाइगर श्रॉफ ने क्या कहा

लालबिहारी लाल जी द्वारा संचालित संस्था लाल कला मंच पूर्वांचल वासियों के लिए छठपर्व पर लोक संगीत और भजन आधारित विशेष कार्यक्रम भी आयोजित करती है। इसके अलावाप्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिएसमय-समय पर सामान्य ज्ञानप्रतियोगिता आयोजित करके उनका मार्ग दर्शन भी करते रहते हैं। ट्रू टाइम्स परिवार की ओऱ सेलाल बिहारी लाल जी को जन्म दिन की हार्दिक शुभकामनायें इसआशाके साथ कि वह इसी तरह समाज एवं साहित्य की अनवरत सेवा करते रहेगे। bhojpuri ek hindi lekhani ke lal

( नीरज पाण्डेय )

बालों का झड़ना,डैंड्रफ,दोमुंहे और रूखे बालों का जबरदस्त नुस्खा