फिर कमजोर हुआ रूपया, आखिर क्यों लगातार कमजोर हो रहा रूपया



जहां एक और देश में पेट्रोल और डीजल कि कीमतों ने लोगों को परेशान कर रखा है वही रुपये में लगातार जारी गिरावट ने भी सरकार और देश की अर्थव्यवस्था पर असर डाला है. इस बात कि जानकारी तो सभी को है कि लगातार डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट आ रही हैं जिसका असर इस कारोबारी हफ्ते के पहले दिन यानि कि आज 10 सितम्बर को देखने को मिला. आपको इस बात कि जानकारी दे दे की आज रुपये में डॉलर के मुकाबले 45 पैसे कि गिरावट दर्ज कि गई है. aakhir kyu lagatar kamjor ho rahi hai rupai

डॉलर के मुकाबले रूपया लगातार कमजोर होता जा रहा है aakhir kyu lagatar kamjor ho rahi hai rupai

आपको बता दे कि अब एक एक डॉलर कि कीमत रूपए के मुकाबले 72.57 हो गई है जो अबतक का सबसे कम्जोर स्तर है. वही बात अगर बीते दिन कि की जाए तो बीते दिन रविवार को रूपए में थोड़ा सुधार देखने को मिला था और रुपये में 26 पैसे की मजबूती आई थी लेकिन एक बार फिर रुपये में आज सोमवार को 45 पैसे कि गिरावट दर्ज की गई. रुपये में जारी लगातार गिरावट को लेकर सरकार भी सवालों के घेरे में है और रूपए के डॉलर के मुकाबले लगातार कमजोर होने से कारोबार जगत में भी हाहाकार मचा हुआ है. सबसे अहम बात इस समय ये है कि आखिर की कारण है कि डॉलर के मुकाबले रूपया लगातार कमजोर होता जा रहा है और आखिर क्या कारण है कि एक डॉलर कि कीमत रूपए के मुकाबले 72.57 हो गई है. aakhir kyu lagatar kamjor ho rahi hai rupai

सभी धर्मो को सच्चा मानता है “भारत” : उपराष्ट्रपति

इन सवालों को लेकर विपक्ष भी सरकार को निशाने पर ले रही है. मीडिया रिपोर्ट्स और विश्व में हुए कारोबारी हलचल कि ख़बरों कि माने तो बताया जा रहा है की इसका कारन क्रूड आयल में तेजी से डॉलर को मजबूती मिली है और इसका दवाब रुपये पर पड़ा है. इसके अलावा दुनिया के दो बड़े देश अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर ने भी रुपये कि हालत पतली कर रखी है. इसके अलावा रूपए में जारी गिरावट के अन्य कारणों की बात करे तो अर्जेंटीना और तुर्की में व्यापत करेंसी संकट ने भी रूपए की मजबूती पर असर डाला है. आपको इस बात की जानकारी भी दे दे कि पिछले 6 महीने में रुपये में 9.5% प्रतिशत तक पीछे हो गया है. अब रूपए में मजबूती लाने के लिए सरकार किस प्रकार का कदम उठाती है ये देखने कि बात होगी क्योंकि विपक्ष द्वारा लगातार सरकार को रुपये में लगातार जारी गिरावट के मुद्दे पर घेरा जा रहा है. aakhir kyu lagatar kamjor ho rahi hai rupai

बदन में ऐंठन अकड़न और दर्द का आसान इलाज