अर्धसैनिक बलों की बढ़ी रिटायरमेंट की आयु

भारतीय सेना के लिए यह एक बहुत बड़ी खूशखबरी है, अब देशभर में तैनात सभी केंद्रीय अर्धसैनिक बलों के कर्मियों को एक समान अधिकार दिया गया है. बता दें कि, गृह मंत्रालय ने सोमवार को अहम फैसला लिया, जिसके तहत सभी केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की रिटायरमेंट की उम्र अब बढ़ाकर 60 साल कर दी गई है. army soldiers retirement

बता दें कि, दिल्ली हाईकोर्ट ने एक रिटायर्ड अधिकारी देव शर्मा की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला सुनाया था कि गृह मंत्रालय 4 माह में यह सुनिश्चित करें कि सभी केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों में सभी रैंकों में सेवानिवृत्ति की उम्र समान हो.

पाक क्रिकेटर आज करेगें मेवाड़ की शामिया से निकाह

सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता ने अदालत के सामने यह दलील रखी थी कि कुछ बलों को 60 साल की सेवानिवृत्ति का लाभ मिलता है, जबकि कई बलों को नहीं मिलता.

आपको बता दें कि, अभी तक इन बलों जिनमें केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल, भारत तिब्बत सीमा पुलिस, सीमा सुरक्षा बल तथा सशस्त्र सीमा बल शामिल हैं, उनमें कमांडेंट से नीचे रैंक के जवान 57 साल की उम्र में रिटायर हो जाया करते हैं. जबकि डीआईजी और उससे ऊपर के रैंक के अधिकारियों की रिटायरमेंट की उम्र 60 वर्ष होती है.

गृह मंत्रालय के इस फैसले के बाद करीब 6,00,000 कर्मी जो कि देश की सभी अर्धसैनिक बल में तैनात हैं, सभी पदों पर उनके रिटायरमेंट की उम्र अब 60 साल होगी और इसका लाभ सभी को मिलेगा. army soldiers retirement

इसे खाया तो मोमबती जैसे मोटापा पिघल जायेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *