नोट देकर वोट मांग रहे केजरीवाल-विजेन्द्र गुप्ता

बीजेपी दिल्ली प्रदेश कार्यालय पर भाजपा नेता और दिल्ली विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजेन्द्र गुप्ता और दिल्ली प्रदेश महामंत्री रविन्द्र गुप्ता ने आम आदमी पार्टी द्वारा विज्ञापन के माध्यम से दिल्ली की झुग्गीयों में रह रहे मतदाताओं को पैसें का लालच देकर वोट आम आदमी पार्टी को देने की अपील करने को लेकर संयुक्त प्रेस वार्ता की.

आज दिनभर की बड़ी ख़बरें 

इस प्रेस वार्ता में पूर्व राष्ट्रीय मंत्री व पूर्व महापौर आरती मेहरा एवं प्रदेश मीडिया प्रमुख अशोक गोयल देवराहा उपस्थित थे. मीडिया को सम्बोधित करते हुये विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि आम आदमी पार्टी ने साढ़े चार वर्ष के अपने कार्यकाल में एक भी काम नहीं किया है जिसके आधार पर दिल्ली के मतदाता केजरीवाल को दुबारा वोट दें।

हर दिन नये झूठ के साथ दिल्ली के लोगों को गुमराह करने वाली आम आदमी पार्टी ने दिल्ली की झुग्गीयों में रह रहे मतदाताओं के वोटों को ध्रुवीकरण करने के लिए पहले 2013 और 2015 में भ्रष्टाचार, धर्म-जाति के आधार पर और कांग्रेस पार्टी को गरीब विरोधी बताकर झुग्गी निवासियों के वोट हासिल कर लिये लेकिन उनके हितों के लिए जो काम करने थे जैसे उन्हें पक्का घर देना और विकास की मुख्यधारा से जोड़ना इन मुद्दो पर सत्ता में आई केजरीवाल सरकार पूरी तरह से विफल साबित हुई.

इसके साथ ही विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि झुग्गी में रह रहे लोगों को फिर से एक बार गुमराह करने के लिए केजरीवाल दिल्ली की झुग्गीयों में विज्ञापन पैम्फलेट बंटवा रहे है जो कि अखबार के माध्यम से सभी झुग्गीयों में पहुंचाया जा रहा है। पैम्फलेट में साफ तौर पर लिखा है पहला की चुनाव की रात आपके पास पैसा आयेगा दूसरा की भाजपा और कांग्रेस पैसा भिजवा रही है तीसरा मना मत करना ले लेना लेकिन वोट झाडू को ही देना.

गर्मी में चेहरे को धुप में काला होने से बचने का आसान उपाय

इस तरह की चुनावी अपील आम आदमी पार्टी खुले आम कर रही है। इस अपील का सीधा तौर पर मतलब यह है कि मतदाताओं को भ्रष्टाचार में फंसाकर उनका वोट अपने पक्ष में लेना जो ये स्पष्ट करता है कि केजरीवाल पैसे देकर मतदाताओं को खरीदने में लिप्त है. आम आदमी पार्टी को पता चल गया है कि झुग्गी में रह रहा मतदाता केजरीवाल सरकार की गरीब विरोधी मानसिकता को समझ चुका है और वो प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी को इस बार पुनरू प्रधानमंत्री बनाने के लिए वोट देने वाला है, इसलिए केजरीवाल हर स्तर का झूठ बोलकर सत्ता हासिल करना चाहते है.

विजेन्द्र गुप्ता ने कहा कि केजरीवाल द्वारा झुग्गीयों में भेजे जा रहे पैम्फलेट में दूसरा बड़ा झूठ लिखा है कि आम आदमी पार्टी की सरकार ने पिछले वर्ष 10 हजार पक्के मकान को झुग्गी में रह रहे लोगों को दिये जो कि केजरीवाल का सबसे बड़ा झूठ है। विधानसभा में मेरे प्रश्न के लिखित उत्तर में केजरीवाल ने स्वंय माना है कि 2010 से 2019 के बीच 1931 मकान झुग्गी में रह रहे लोगों को दिये गये है जो कि 10 हजार मकान देने की बात को झूठा साबित करता है ।

इससे यह स्पष्ट होता है कि केजरीवाल किस तरह 10 हजार पक्के मकान की बात कहकर झुग्गी निवासियों को भ्रमित कर रहे है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की महत्वकांक्षी योजना प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 2022 तक दिल्ली में सभी झुग्गी निवासियों को पक्का मकान देने का लक्ष्य है। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पूरे देश में 2 करोड़ पक्के मकान दिये जा चुके है, लेकिन दिल्ली में केजरीवाल ने प्रधानमंत्री आवस योजना को रोक कर यह स्पष्ट कर दिया है कि वो गरीब विरोधी मानसिकता रखते है.

गौरतलब है की दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर 12 मई को मतदान होने जा रहा है. वहीं 12 मई के चुनाव को लेकर भाजपा , कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने अपनी – अपनी कमर कस ली है और एकदूसरे को घेरने का एक भी मौका ये पार्टियां छोड़ना नहीं चाहती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *