लोकसभा चुनाव : बेगूसराय का बॉस कौन ?

देश के पूर्वी राज्य बिहार के एक जिले”बेगूसराय ने सभी का ध्यान इस चुनावी मौसम में अपनी और खींच रखा है. आखिर ऐस हो भी क्यों न इस बार यहां सियासी संग्राम काफी दिलचस्चप जो हो चला है. लोकसभा चुनाव 2019 की शुरवात हो चुकी है और इस बार बिहार का यह जिला अपने राजनीतिक हलचल के लिए चर्चा का विषय बना हुआ है. इस बार बेगूसराय में चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्प होने की संभावना जताई जा रही है.

राष्ट्रवाद और राजनीति

एक और जहां बेगूसराय में सीपीआई की और से कन्हैया कुमार चुनावी मैदान में उतरे है तो वहीं बीजेपी  की और से यहां केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह चुनाव लड़ रहे है. वही और महागठबंधन की और से आरजेडी नेता तनवीर हसन एक बार फिर बेगूसराय से चुनावी ताल ठोक रहे है. राजनीतिक के जानकार मानते है की इससे यहां मुकाबला त्रिकोणीय होने की संभावना है क्योकि तीनों ही उम्मीदवारों के पक्ष में अच्छा जनसमूह चुनावी रैलियों में देखने को मिल रहा है.

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

अब इस बार यहां चुनाव काफी दिलचस्प होने के आसार है क्योकि कम्यनिस्टों का गढ़ माने जाने वाले बेगूसराय में एक तरफ जहां भाजपा से गिरिराज सिंह चुनाव लड़ रहे है और वे प्रखर ऱाष्ट्रवाद के समर्थक है और दूसरी और सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार है जो कि कम्यूनिसिट विचारधारा के है. हालाकि केन्द्रीय मंत्री गिरिराज सिंह अपने संसदीय क्षेत्र नवादा से चुनाव लड़ना चाहते थे लेकिन भाजपा ने उन्हें इस बार बेगूसराय से टिकट दिया. आपको बता दे की नवादा से वह भाजपा मौजूदा सांसद है.

इसके साथ ही महागठबंधन के उम्मीदवार तनवीर हसन भी इस सीट पर चुनाव लड़ रहे है जिससे यहां का चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्चप होने की संभावना है. अब होता क्या है इस बात का पता तो 23 मई को ही चल पाएगा लेकिन इतना जरूर है की बेगूसराय सीट पर इस बार चुनावी दंगल काफी दिलचस्प होने के आसार है नजर आ रहे है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *