50 दिन बाद भी बिना अध्यक्ष के कांग्रेस

कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी के आज लगभग 50 दिन हो चुके हैं अपने पद को छोड़े हुए, लेकिन अभी तक कोई नया चेहरा इस अध्यक्ष पद के लिए नहीं चुना गया है. दरअसल, लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद राहुल गांधी ने 25 मई को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में इस्तीफा दे दिया था. congress president

आपको बता दें कि, कांग्रेस के संविधान के मुताबिक अध्यक्ष के उत्तराधिकारी को चुनने का अधिकार सीडब्ल्यूसी के पास है. लेकिन अभी वरिष्ठ नेताओं को इसकी घोषणा करनी है. माना जा रहा है कि कर्नाटक का मसला सुलझने के बाद ही सीडब्ल्यूसी की बैठक का रास्ता साफ होगा और इसी में अध्यक्ष पद के लिए नामों पर विचार होगा. दूसरी तरफ पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद विवाद और खड़ा हो गया. अमरिंदर ने सिद्धू के इस्तीफे को ड्रामा बताया और कहा- जनरल द्वारा दिए गए काम को सैनिक कैसे मना कर सकता है. congress president

आज मनाई जा रही है व्यास जयंती, जानिए वेदव्यास जी की जीवनी

इसी तरह राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच भी मतभेद की खबरें हैं. इसके अलावा हरियाणा में भी पार्टी का अंदरूनी टकराव खुलकर सामने आ गया है. पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर द्वारा बनाई गई एक चुनाव समिति को गुलाम नबी आजाद ने रद्द कर दिया है. congress president

इसके अलावा झारखंड में समीक्षा बैठक के दौरान प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार और प्रभारी आरपीएन सिंह को कार्यकर्ताओं की नाराजगी का सामना करना पड़ा. अत: इस मौजूदा परिस्थितियों को देखते हुए सियासत के जानकार कहने लगे हैं कि कांग्रेस की स्थिति बिना मुखिया वाले घर जैसे हो गई है.

मिल्क से शेविंग करने के अनोखे फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *