क्या नाम बदल देने से बदली दिल्ली की किस्मत?

दिल्ली कैपिटल के ओनर्स ने जब इस साल “दिल्ली डेयरडेविल्स” का नाम बदलकर “दिल्ली कैपिटल्स” रखा और अपनी यूनिफार्म में भी बदलाव किया. तब शायद किसी ने नहीं सोचा होगा के यह बदलाव दिल्ली कैपिटल्स की किस्मत ही बदल देंगा. दिल्ली की टीम ना ही सिर्फ सात साल बाद प्लेऑफ में पहुंची, बल्कि आइपीएल के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ में जीत दर्ज करने में सफल हुई.

चेन्नई को पछाड़, IPL के फाइनल में पहुंची मुंबई इंडियंस

दिल्ली ने बुधवार को विशाखापत्तनम में हुए एलिमिनेटर मुकाबले में पिछली बार की विजेता टीम सनराइजर्स हैदराबाद को दो विकेट से हराकर क्वालीफायर-2 में अपनी जगह पक्की कर ली है, जहां शुक्रवार को दिल्ली का सामना इसी मैदान पर चेन्नई सुपरकिंग्स से होगा.

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

बात करे बुधवार रात को हुए मैच की तो पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद की टीम ने 20 ओवर में आठ विकेट पर 162 रन बनाए। इस स्कोर को चेस करते हुए दिल्ली कैपिटल्स ने 19.5 ओवर में आठ विकेट पर 165 रन बनाकर जीत दर्ज की। दिल्ली की जीत की नींव पृथ्वी शॉ ने रखी, तो वही उसे जीत तक पहुंचाने के लिए रिषभ पंत ने भी अपनी एड़ी चोटी तक का दम लगा दिया।

पृथ्वी ने 38 गेंदों पर छह चौकों और दो छक्कों की मदद से 56 रन बनाए, जबकि रिषभ ने 21 गेंदों पर दो चौकों और पांच छक्कों की मदद से 49 रन की पारी खेली। शिखर धवन ने भी दिल्ली को जिताने के लिए बहुत मेहनत की ,धवन ने दिल्ली को एक आक्रामक शुरुआत दिलाई। हालांकि, तेज शुरुआत के बाद धवन ने खुद को कुछ संभाला और एक अच्छी पारी खेली.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *