मुझे समलैंगिक होने पर है गर्व : दुती चंद

देश की उड़नपरी के नाम से मशहूर धाविका दुतीचंद ने खुलासा किया है कि वह होमोसेक्सुअल यानि कि समलैंगिक हैं और वह किसी लड़की के साथ रिलेशन में हैं. अपने समलैंगिक रिश्ते को सार्वजनिक तौर पर स्वीकार करने वाली वह देश की पहली एथिलीट बन गई हैं.

एग्जिट पोल्स से उत्साहित शाह ने एनडीए को डिनर पर बुलाया

पीटी ऊषा के बाद 100 मीटर तेज स्पर्धा में भाग लेने वाली वह देश की पहली महिला हैं इतना ही नहीं दुती चंद एशियाई खेलों में 100 और 200 मीटर तेज रेस में देश को मेडल भी दिला चुकी हैं. इन दिनों हैदराबाद में वर्ल्ड एथलेटिक चैंम्पियनशिप के लिए तैयारी कर रही 23 वर्षीय उड़नपरी दुती बताती है कि सर्वोच्च न्यायालय के धारा 377 पर दिए गए निर्णय से उन्हें अपने रिश्ते का खुलासा दुनिया के सामने करने में काफी मदद मिली है.

वजन घटाने का सबसे आसान और सुरक्षित तरीका

वह कहती हैं कि उन्हें अपने रिश्ते का खुलासा करने के बाद परिवार से ही धमकियां मिल रही हैं लेकिन वो इसके सामने झुकने वाली नहीं हैं. दुती आगे कहती हैं कि शीर्ष न्यायालय का फैसला उनके लिए ताजा हवा के झोंके के जैसा है. 377 पर कोर्ट के फैसले ने हमारी उस बात का समर्थन किया है, जो हम पहले से कहते थें.

दुती अपने इस फैसले को बेहद निजी बताते हुए कहती हैं कि हम किससे प्यार करते हैं और किसके साथ रहते हैं सिर्फ इसके आधार पर हमें जज करने की कोई आवश्यकता नहीं हैं. वो कहती हैं अपने इस फैसले के बाद हम सार्वजनिक तौर पर खुद को सशक्त समझते हैं और हम समझते हैं कि दुनिया हमें जाने यह बताने के लिए सही समय है’

लेकिन फिलहाल दुति अपने पार्टनर का नाम अभी सार्वजनिक नहीं करना चाहती हैं इस बारे में वह कहती हैं उनकी पार्टनर फिलहाल लाइमलाईट से दूर हैं और वो इसकी आदी नहीं हैं. हालांकि अपने पार्टनर के बार में बताते हुए दुति कहती हैं कि 19 साल की हैं और अभी भुवनेश्वर यूनिवर्सिटी में पढ़ रही हैं. इसके साथ ही दुति अपने फैसले पर कहती हैं उन्हें इसके लिए कोई पछतावा नहीं है और अपने फैसले पर उन्हें गर्व है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *