तटीय इलाकों से टकराया ‘फनि’ चक्रवात, भारी बारिश

अत्यधिक प्रचंड चक्रवाती तूफान ‘फोनी’ शुक्रवार सुबह पुरी तट पर पहुंचा जिससे कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। समुद्र के किनारे बसे मंदिर शहर पुरी में कई इलाके और अन्य जगहों में पानी भर गया है। राज्य के सभी तटीय इलाकों में भारी बारिश हो रही है। कई पेड़ उखड़ गए और भुवनेश्वर समेत कुछ स्थानों पर बनीं झोपड़ियां तबाह हो गई हैं। fani

ओडिशा में फोनी चक्रवात ने दस्तक दे दी है। अत्यंत प्रचंड च्रकवात ओडिशा के तट की ओर बढ़ रहा है और यह अनुमानित समय दोपहर बाद तीन बजे से बहुत पहले ही तटीय क्षेत्र से टकराएगा। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने लोगों से अपील की है कि वे इस दौरान घरों के अंदर ही रहें और कहा कि लोगों की सुरक्षा के लिए सभी जरूरी इंतजाम किए गए हैं। fani

मुस्लिम एजुकेशन सोसाइटी ने बुर्के पर लगाया बैन

भारतीय तटरक्षक बल और नौसेना ने भी राहत इंतजाम में अपने पोत और कर्मियों को तैनात किया है। तट रक्षक बल ने कहा कि चक्रवाती तूफान फोनी को देखते हुए 34 राहत दलों और चार तटरक्षक पोतों को राहत कार्य के लिए तैनात किया गया है। नौसेना ने कहा कि भारतीय नौसेना के पोत सहयाद्री, रणवीर और कदमत को राहत सामग्री तथा चिकित्सा दलों के साथ तैनात किया गया है, जिससे वे चक्रवात के तटीय इलाके से गुजरने के फौरन बाद राहत कार्य शुरू कर सकें।

डैन्ड्रफ रूसी और बाल झड़ने की समस्या का सम्पूर्ण समाधान

इस बीच, नई दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ओडिशा, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल में पार्टी कार्यकर्ताओं से चक्रवात प्रभावितों की मदद करने को कहा है। गौरतलब है कि फोनी को देखते हुए रेल मंत्रालय ने पहले ही 103 ट्रेनों को रद्द कर दिया है या उनके रास्ते बदल दिए हैं। आम जनता को परेशानी न हो इसके लिए वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। निश्चिततौर पर सामान्य जन जीवन के लिए अब भी कुछ वक्त लगेगा। fani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *