मिशन “वीनस” की तैयारी में इसरो

इसरो का लोहा आज पूरी दुनियाभर की स्पेश एजेंसियां मान रही है. इसरो लगातार अंतरिक्ष में नित नये आयाम रच रहा है. अब इसरो ने शुक्र ग्रह पर जाने की योजना बनाई है. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के मंगल ग्रह पर जाने के बाद अब इसरो का लक्ष्य शुक्र ग्रह (वीनस) पर जाने की है. बताया जा रहा है कि इसरो ने आगामी दस वर्षों में 7 वैज्ञानिक मिशन की यौजना बनाई है जिसमें मिशन वीनस भी शामिल है.

world cup 2019 : तैयार है टीम इंडिया – भुवनेश्वर कुमार

खबरों की माने तो इसरो ने मिशन वीनस की तारीख 2023 की रखी है. इसके अलावा आगामी दस वर्षे में वैज्ञानिक मिशन की सूची में वर्ष 2020 में ब्रह्मंडीय विकिरण का अध्ययन करने के लिए एक्सपोसेट और इसके अलावा 2021 में सूर्य के लिए एल1 और वहीं वर्ष 2022 में मंगल मिशन-2 और इसके बाद वर्ष 2024 में चंद्रयान-3 और 2028 में सौरमंडल के बाहर एक खोज इसरो की सूची में शामिल हैं.

तुरंत खूबसूरत बनने का तरीका

आपको बता दे कि शुक्र ग्रह की संरचना, आकार, और धनत्व एक जैसी है जिस कारण शुक्र ग्रह को पृथ्वी की जुड़वा बहन भी कहा जाता है. इसरो के मिशन विनस को लेकर बताया जा रहा है कि यह मिशन शुक्र ग्रह की सतह और उप -सतह के अध्ययन पर केन्द्रित तो रहेगा ही इसके साथ ही मिशन शुक्र, शुक्र ग्रह की वायुमंडलीय रसायन विज्ञान और सौर हवाओं पर भी केंन्द्रित होगा.

आपको बता दे कि इसरो के अध्यक्ष के सिवन ने मिशन वीनस को उत्साह से भरा मिशन बताया है. गौरतलब है कि इसरो पूरी दुनिया में सबसे जानी मानी स्पेश एजेंसी है जो आज पूरी दुनिया के स्पेश एजेंसियों को कड़ी टक्कर दे रही है. इसरो ने हाल ही में कई देशों के सेटलाइट्स को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में भेजा है जिस कारण से इसरो का नाम आज पूरी दुनिया में बेहतरीन स्पेश एंजेसियों की सूची में शामिल है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *