अय्यर ने पीएम को फिर कहा “नीच”

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रहे मणिशंकर अय्यर ने 2017 की ही तरह ही पीएम नरेंन्द्र मोदी को लेकर विवादित बयान देते हुए एक बार फिर से उन्हें “नीच” कहा है. अय्यर ने, पीएम मोदी द्वारा लोकसभा चुनाव के प्रचार के दौरान पूर्व पीएम राजीव गांधी पर निशाना साधे जाने को लेकर अपने लेख में प्रधानमंत्री की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि याद है न 2017 में मैंने मोदी को लेकर क्या भविष्यवाणी की थी. मैने सही कहा था न.

अय्यर ने यह बयान 2017 में हुए गुजरात विधामसभा के चुनावों के दौरान उस वक्त दिया था जब दिसंबर महीने में दिल्ली स्थित इंटरनैशनल बाबा साहेब आंबेडकर सेंटर का उद्घाटन करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पार्टी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर इशारों में जमकर निशाना साधा था और कहा था कांग्रेस ने एक परिवार को बढ़ाने के लिए बाबा साहेब के योगदान को दबाया था.

पेट्रोल- डीजल आज भी लुढ़के, जेब पर बोझ होगा कम

पीएम के इस बयान से कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर ने आपत्तिजनक टिप्पणी करते हुए प्रधानमंत्री मोदी को ‘नीच’ और ‘असभ्य’ करार दिया था. उन्होंने कहा था कि ‘मुझको लगता है कि यह बहुत नीच किस्म का आदमी है. इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?’हालांकि अपने इस बयान के कारण उन्हें पार्टी से निलंबित भी किया गया लेकिन बावजूद इसके अय्यर ने अपने बयान को दोबारा से अब दोहराया है.

क्या दिल्ली में विभाजित हुआ मुस्लिम मतदाताओं का वोट ?

अपने ताजा लेख में अय्यर पीएम मोदी की शिक्षा पर सवाल उठाते हैं वह प्रधानमंत्री द्वारा भगवान गणेश को गज का सूंड़ लगाए जाने को प्लास्टिक सर्जरी और प्राचीन काल के उड़नखटोलों को विमान बताने को अज्ञानता से भरा दावा बताते हैं. अपने इसी लेख में अय्यर प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी द्वारा एक चैनल को दिए गए एक साक्षात्कार के दौरान बालाकोट एयर स्ट्राइक के वक्त बादलों का फायदा लेने की बात को लेकर जमकर निशाना साधा.

इसके अलावा उन्होंने पूर्व पीएम राजीव गांधी को लेकर दिए प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी के उस बयान की तीखी आलोचना जिसमें उन्होंने एक रैली के दौरान कहा था कि दिसंबर 1987 में राजीव गांधी आईएनएस विराट को पर्सनल टैक्सी की तरह लक्षद्वीप ले गए थे. जिसको लेकर अय्यर ने मोदी को फिर से नीच कहा.

मणिशंकर अय्यर यहीं नहीं रुकते वह 2002 के गुजरात दंगों के दौरान पीएम मोदी के दिए बयान को लेकर कहते हैं कि मैंने कभी नहीं सोचा था कि 2014 से वह सीएम जो मुसलमानों को पिल्ला समझता है, पीएम बनेगा. अय्यर इस कड़ी में आगे कहते हैं कि एक पिल्ला भी गाड़ी के नीचे आ जाए तो दिल में चोट लगती है.

वह दावा करते हुए कहते हैं कि गुजरात दंगो के दौरान मोदी वहां का सीएम होते हुए भी 24 दिनों तक मुस्लिमों के कैंप में नहीं जाते हैं, अहमदाबाद की मस्जिद में वह उस दिन पहुंचा जब पीएम वाजपेयी आए. क्योंकि उस दिन जाना मोदी की मजबूरी थी.

हालांकि पीएम मोदी को लेकर मणिशंकर अय्यर के बयानों को देखा जाए तो वह पीएम मोदी के आलोचक कम दुश्मन ज्यादा नजर आते हैं. वह नरेंद्र मोदी से इस कदर नफरत करते हैं कि 2014 में उनके पीएम बनने के बाद पाकिस्तान की यात्रा पर जाते हैं और वहां पीएम मोदी को हटाने के लिए मदद मांगते हुए कहते हैं भारत-पाकिस्तान के संबंध तभी बेहतर हो सकते हैं जब मोदी को हटाया जाएगा. इससे पहले भी अय्यर ने देश के प्रधानमंत्री को जोकर, सांप, बिच्छू करार दिया था.

इन सब के बीच खास बात यह रही है कि अय्यर के विवादित और आपत्तिजनक टिप्पणियों  फायदा हमेशा भाजपा को मिला है.  इस मामले को लेकर राजनीति के जानकार बताते हैं कि अय्यर ऐसे समय पर भाजपा और पीएम मोदी को लेकर विवादित बयान देते हैं जब कांग्रेस चुनाव में अपनी वापसी कर रही होती है लेकिन उनके विवादित बयानों का भाजपा राजनीतिक फायदा उठा लेती हैं.

जानिए कैसे वापस पायें अपनी खोई हुई ताकत

इसकी एक तस्वीर गुजरात विधानसभा चुनावों के  दौरान दिखी जब कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी साफ्ट हिन्दुत्व का चोला ओढ़ कर भाजपा को कड़ी टक्कर दे रहे थे उसी दौरान मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी को नीच कह दिया जिसे बीजेपी ने भुना लिया. और इसका फायदा उसे चुनावों में मिला. भाजपा ने गुजरात अच्छी जीत दर्ज की थी. इतना ही नहीं भाजपा ने हिमाचल प्रदेश में भी शानदार जीत दर्ज किया था. 

कुलदीप सिंह

One thought on “अय्यर ने पीएम को फिर कहा “नीच”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *