मानसून ने दिया दगा, अब रुलाएगा प्याज



पेट्रोल की कीमतों से परेशान आम आदमी को अब प्याज भी रुलाएगा. दरअसल महाराष्ट्र के लासलगांव स्थित एशिया की सबसे बड़ी प्याज की मंडी बीते कुछ दिनों में प्याज की कीमतों में 50 फीसदी से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई है. आशंका जताई जा रही है कि दिवाली के दौरान मंडी बंद रहने के कारण प्याज की कीमतें 45 रूपये प्रति किलो तक जा सकती हैं. monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj

प्याज की बढ़ी कीमतों के पीछे खराब मानसून को जिम्मेदार माना जा रहा है व्यापारियों का कहना है कि महाराष्ट्र में कम बारिश की वजह से एक बार फिर से सूखे जैसे हालात बन गये है जिस कारण इस वर्ष प्याज की पैदावार कम हो सकती है. इस कारण से प्याज के पौधे मुरझा गये है जिसका सीधा असर उत्पादन पर पड़ रहा है. monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj

एशिया की सबसे बड़ी प्याज मंडी है लासलगांव monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj

पुणे स्थित लासलगांव मंडी एशिया की सबसे बड़ी प्याज की मंडी है देशभर में लासलगांव एपीएमसी के हिसाब से ही प्याज की कीमतों का निर्धारण किया जाता है. जानकारी के मुताबिक़ प्याज की कीमतों के बढ़ने से किसानों को इसके चलते 40 फीसदी स्टोरेज का नुकसान उठाना पड़ रहा है. हालांकि बाजार में पुराना स्टॉक ही अभी चल रहा है लेकिन मानसून के दगा देने से प्याज की कीमतों के बढ़ने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है. monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj

अन्य बाजारों में अभी स्थिर हैं कीमतें monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj

लासलगांव मंडी के अलावा अन्य राज्यों की प्याज की मंडियों में प्याज के दाम अभी स्थिर बने हुए हैं मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों की मंडियों में प्याज का भाव अभी 9 से 10 रुपये प्रति किलो पर बना हुआ है. वही राजस्थान के अलवर स्थित प्याज की मंडी के व्यापारी इसकी कीमतों को लेकर काफी सतर्क है और उन्होंने लागातार लासलगांव मंडी पर अपनी नजर बना रखी है. ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि लासलगांव में प्याज की कीमतों का असर अन्य राज्यों पर भी पड़ेगा. monsoon ne diya daga ab rulayega pyaj