अम्बानी को हुआ एक लाख करोड़ का नुकसान

पिछले पांच दिनों से चल रहे शेयर मार्किट के खराब प्रदर्शन का सबसे बड़ा असर रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) पर पड़ा है और कंपनी को करीब एक लाख करोड़ का नुकसान उठाना पड़ा है। इस नुक्सान के साथ RIL के हाथ से देश की सबसे वैल्युएबल कंपनी का खिताब भी छीन गया, और  टीसीएस 10 जनवरी के बाद फिर से देश की सबसे वैल्युएबल कंपनी बन गई।

देश का नया रक्षक “अपाचे” वायुसेना में शामिल

बात करे दोनों कंपनियों के मार्किट कैप की तो शुक्रवार को टीसीएस का मार्केट कैप 8.01 लाख करोड़ था जबकि RIL का मार्केट कैप 7.93 लाख करोड़ था। जानकारों के मुताबिक विदेशी निवेशकों के पीछे हटने से मार्केट में गिरावट आई है। सेंसेक्स और निफ्टी में सबसे ज्यादा रुतबा रखने वाली रिलायंस को नुकसान भी सबसे ज्यादा हुआ है। तीन दिनों में विदेशियों ने भारतीय शेयर मार्केट से 2,500 करोड़ रुपये मार्केट से निकाल लिए।

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

रिलायंस की शुरुआत तो शुक्रवार को अच्छी हुयी और कंपनी दो फीसदी के फायदे से उठी लेकिन बाद में नीचे आ गई। मॉर्गन स्टैनली ने रिलायंस डाउनग्रेड कर दिया है। वेनेजुएला और ईरान से गैस की आपूर्ति में कमी के साथ गैस और पॉलीईस्टर मार्केट में गिरावट की वजह से भी RIL की कमाई में कमी आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *