29 C
New Delhi
24/03/2019
Mobilenews24 | Hindi News, Latest News in Hindi,
Naxal’s Arnav dam clear SET exam
राष्ट्रीय

आईआईटी छोड़ माओवादी बना, अब जेल से ही पास किया “सेट”

कहते हैं कि इंसान अगर कुछ करने की ठान ले तो उसके रास्ते में लाख मुश्किलें या मुसीबतें आये वह उन सभी मुश्किलों को पार कर अपनी मंजिलों को पा ही लेता है. हमारा इतिहास इस तरह की प्रेरक घटनाओं से भरा पड़ा है. इन्हीं घटनाओं में अब एक नाम और जुड़ गया है. यह नाम है पश्चिम बंगाल की जेल में बंद माओवादी नेता अर्णब दाम उर्फ विक्रम का. Naxal’s Arnav dam clear SET exam

अर्णब दाम उर्फ़ विक्रम कभी आईआईटी खड़गपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में इंजीनयरिंग की पढ़ाई कर रहा था लेकिन इसी दौरान वह माओवादी विचारधारा से प्रेरित होकर नक्सलवादियों को ज्वाइन कर लिया था. यहाँ वह झारखंड, ओड़िसा और पश्चिम बंगाल में नक्सलवादियों के सक्रिय संगठन का सचिव था. उसे 2012 में पश्चिम बंगाल के पुरुलिया के विरामडी स्टेशन से सुरक्षा एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था.

मसूद पर फ्रांस की स्ट्राइक, जब्त करेगा सारी संपत्तियां

तब से वह जेल में ही बंद है अर्णब पर 31 नक्सलवादी हमलों के कुल 31 केस दर्ज है जिसमें से उसे 30 मामलों में जमानत मिल चुकी है लेकिन सियालदह इएफआर कैंप पर हमले के मामले में अभी तक उसे जमानत नहीं मिल सकी है. लेकिन इन सब के बीच सबसे ख़ास बात यह रही कि पश्चिम बंगाल की प्रेसीडेंसी जेल में बंद रहते हुए अर्णब ने बीए आनर्स और इतिहास से एमए की अपनी पढ़ाई पूरी की. और अब उसने जेल में रहते हुए ही स्टेट एलिजिबिलिटी टेस्ट पास कर लिया है. जिसका रिजल्ट पिछले साल दो दिसंबर को ही आया था जिसके देखकर उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा.  Naxal’s Arnav dam clear SET exam

वह पिछले साल ही 18 दिसंबर को आयोजित नेट की परीक्षा देना चाहता था जिसके लिए उसे एडमिट कार्ड भी मिल गया था लेकिन प्रशासन की लापरवाही के कारण वह परीक्षा नहीं दे पाया जिसके विरोध में अर्णब ने 4 दिन तक अनशन भी किया था जिसके बाद राज्य के कारागार मंत्री के यह आश्वासन देने पर कि वह इस बार की नेट परीक्षा में बैठेगा उसने अपना अनशन ख़त्म किया.

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

गौरतलब है कि ऐसा करके अर्णब ने इतिहास रच दिया है क्योंकि इससे पहले किसी ने भी जेल में रहते हुए सेट की परीक्षा को पास नहीं किया था. इस परीक्षा को पास करने के बाद अब वह किसी भी कालेज में लेक्चरर बनने के योग्य हो गया है.   Naxal’s Arnav dam clear SET exam

Related posts

नितीश के राष्ट्रिय अध्यक्ष ने कहा बेटी बिक जाये तो कोई बात नहीं, वोट नहीं बिकना चाहिए

admin

केंद्रीय मंत्री परिसद में होंगे बरे फेर बदल

admin

मोदी के डिजिटल इंडिया प्लान को जियो ने दी नई उड़ान सस्ता इंटरनेट, वौइस् कॉल और SMS होंगे फ्री

admin