नेहरु की जगह पटेल या नेताजी के हाथों में सत्ता होती तो हालात अलग होते : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज आजाद हिन्द फ़ौज सरकार के गठन के 75 साल पूरे होने के अवसर पर कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये बड़ी ही दुखद बात है कि एक परिवार को ऊंचा उठाने के लिये पटेल, नेताजी और बाबा साहब आम्बेडकर जैसे महान सपूतों के राष्ट्र निर्माण के योगदान को भुलाने की साजिश रची गई.

पीएम मोदी ने अप्रत्यक्ष तौर पर पूर्व प्रधानमन्त्री जवाहर लाल नेहरू पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर सरदार पटेल और नेताजी जैसी हस्तियों को देश का नेतृत्व करने का मौक़ा मिलता तो देश की परिस्थितियां अलग होती. प्रधानमन्त्री ने कहा कि अगर भारत को देखने के लिए विदेशी चश्मा नहीं होता तो हालात अलग होते.

नेताजी सुभाषचंद्र बोष के कैम्ब्रिज के दिनों के पत्र का जिक्र करते हुए प्रधानमन्त्री मोदी ने बताया कि नेताजी ने लिखा था कि कैम्ब्रिज में हम भारतीयों को ये सिखाया जाता है कि यूरोप ब्रिटेन का ही विस्तृत स्वरुप है, और इसीलिए हमारी आदत यूरोप को इंग्लैण्ड के नजरिये से देखने की हो गयी है. पीएम मोदी ने ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा कि आज देश नेताजी के बताये मार्ग पर चल रहा है.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.