पेट्रोल-डीजल से चिंतित सरकार, बुलाई समीक्षा बैठक



पेट्रोल-डीजल की बेकाबू कीमतों से आम आदमी बेहद परेशान है. पेट्रोल की लगातार बढ़ती कीमतों ने आम आदमी के किचन का बजट बिगाड़ दिया है. पहले जिस पेट्रोल के लिए 60 रूपए खर्च करने पड़ते थे अब उसी के लिए 90 रुपये खर्च करने पड़ रहे हैं. जिसका असर सीधे तौर पर व्यक्ति की लाइफस्टाइल पर पड़ रहा है. तेल की बढ़ती कीमतों को लेकर विपक्ष लगातार सरकार पर हमला कर रहा है. पेट्रोल की बेकाबू कीमतों को लेकर अब केंद्र सरकार भी बेचैन हो गई है. petrol diesel se chintit hain sarkar

पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों पर नियंत्रण स्थापित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज समीक्षा बैठक बुलाई है. इस बैठक में वित्तमंत्री अरुण जेटली सहित पेट्रोलियम मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान भी शामिल हुए. सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक बैठक के दौरान कच्चे तेल के आयात पर निर्भरता को कम करने के लिए फैसला लिया जा सकता है. बता दें कि इसको लेकर दूसरे दौर की बैठक होगी. petrol diesel se chintit hain sarkar

राफेल : राहुल ने रक्षा मंत्री के फ्रांस दौरे पर उठाए सवाल

वहीं पेट्रोल की कीमतों में आज भी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई. ताजा बढी दरों के साथ राजधानी दिल्ली में 12 पैसे से बढ़कर पेट्रोल 82.48 पैसे पर और डीजल 28 पैसे उछलकर 74.90 रूपये प्रति लीटर पर पहुंच गया है. बता दें कि कुछ दिनों पहले ही केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल के दामों में 2.5 रूपये की कटौती की थी, इतनी ही कटौती राज्यों ने भी की थी लेकिन इसके बाद भी पेट्रोल की बढ़ती कीमत पर लगाम नहीं लगने से जनता को इसका फायदा नहीं मिल पा रहा है. petrol diesel se chintit hain sarkar

बालों का झड़ना,डैंड्रफ,दोमुंहे और रूखे बालों का जबरदस्त नुस्खा