16 C
New Delhi
23/02/2019
Mobilenews24 | Hindi News, Latest News in Hindi,
PIL needs made aware
राज्य राष्ट्रीय

पी.आई.एल के लिए लोगो को जागरूक करने की जरुरत है – मनोज तिवारी




दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने आज एक पत्रकार सम्मेलन में कहा है कि न्यायाधीश स्वर्गीय श्री बी. एच. लोया के मामले में दायर पी.आई.एल. पर आज माननीय सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय के बाद यह स्पष्ट हो गया है कि न्यायाधीश महोदय की मृत्यु पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल सहित विपक्ष के नेताओं ने केवल राजनीतिक दुर्भाव से सरकार पर आरोप लगाये। PIL needs made aware

सर्वोच्च न्यायालय में सत्य की विजय हुई है। PIL needs made aware

श्री तिवारी ने कहा है कि राजनीतिक रूप से भाजपा एवं प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अमित शाह का मुकाबला करने में अक्षम विपक्ष केवल राजनीतिक द्वेष से जज श्री लोया के मामले को विवादित करता रहा है पर आज सर्वोच्च न्यायालय में सत्य की विजय हुई है। PIL needs made aware
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आज सर्वोच्च न्यायालय ने अपने निर्णय देते हुये भाजपा के उस विश्वास की पुष्टि कर दी कि जज श्री लोया के मामले में दायर पी.आई.एल. एक पब्लिक इंटेरेस्ट लेटिगेशन नहीं बल्कि पोलिटिकली इंटेरेस्ट लेटिगेशन है।  साथ ही यह खेद का विषय है कि बड़े-बड़े स्थापित परिवारों के जुड़े कांग्रेस एवं अन्य कई विपक्षी दल गरीब एवं स्वतंत्र पृष्ठभूमि के नेतृत्व वाली भाजपा के विरूद्ध लगातार साजिश कर रहे हैं। PIL needs made aware

केजरीवाल की अनर्गल बयानबाजी PIL needs made aware

श्री तिवारी ने कहा है कि जज श्री लोया की मृत्यु के मामले में दायर पी.आई.एल. हो या अनेक मामलों में श्री राहुल गांधी एवं अरविन्द केजरीवाल की अनर्गल बयानबाजी, इनके बाद यह आवश्यक हो गया है कि देश में पी.आई.एल. दायर करने एवं व्यक्तिगत आरोप लगाने के अधिकार पर देश में सार्वजनिक चर्चा हो। PIL needs made aware
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष श्री मनोज तिवारी ने आज एक पत्रकार सम्मेलन में कहा है कि यह खेद का विषय है कि गत माह अनेक राजनीतिक नेताओं से अपने दुव्र्यवहार एवं झूठे आरोपों के लिए मांफी मांगने वाले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के सहयोगी एवं उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया अब उनसे भी आगे जाकर संवैधानिक टकराव की राजनीति कर रहे हैं।  पत्रकारवार्ता में भाजपा महामंत्री श्री कुलजीत सिंह चहल ने भी प्रवक्ता श्री हरीश खुराना एवं श्री प्रवीण शंकर कपूर और मीडिया प्रभारी श्री प्रत्यूष कंठ की उपस्थिति में पत्रकारों को सम्बोधित किया। PIL needs made aware
 
श्री तिवारी ने कहा है कि गत एक माह से दिल्ली की जनता देख रही है कि अरविन्द केजरीवाल माफी मांगते घूम रहे है और मनीष सिसोदिया दिल्ली के उपराज्यपाल एवं केन्द्र सरकार पर अमर्यादित टिप्पणियां कर दिल्ली में पुनः संवैधानिक संकट खड़ा करने का प्रयास कर रहे हैं। 
 
दिल्ली भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली में सी.सी.टी.वी. एक संवेदनशील मुद्दा है, चाहे सड़कों एवं सार्वजनिक वाहनों में महिला सुरक्षा की दृष्टि से हो या फिर सरकारी कार्यालयों में भ्रष्टाचार एवं कामचोरी पर निगाह रखने की दृष्टि से, जनता अविलम्ब दिल्ली में सी.सी.टी.वी. कैमरे बड़े पैमाने पर लगे देखना चाहती है। PIL needs made aware
 
श्री तिवारी ने कहा कि सी.सी.टी.वी. केवल जनभावना से जुड़ा मुद्दा ही नहीं आम आदमी पार्टी की चुनावी प्राथमिकता भी थी पर राजनीतिक इच्छा शक्ति की कमी के चलते अरविन्द केजरीवाल सरकार ने इस पर कोई गंभीर कार्य नहीं किया और यदि आज उपराज्यपाल इस पर पहल कर रहे हैं तो मनीष सिसोदिया की बौखलाहट उनकी राजनीतिक हताशा के रूप में नजर आ रही है।      
 
श्री तिवारी ने कहा कि राशन कालाबाजारी एवं अन्य छोटे-बड़े घोटालों के तुरन्त बाद कंसलटेंट नियुक्ति मामले में भी दिल्ली सरकार की असंवैधानिक कार्यव्यवस्था उजागर होने के बाद केजरीवाल सरकार बौखला चुकी है और अब पुनः उपराज्यपाल पर असभ्य टिप्पणियां कर अपने भ्रष्टाचार से जनता का ध्यान भटकाने का प्रयास कर रही है। PIL needs made aware  
 
श्री कुलजीत सिंह चहल ने कहा कि अरविन्द केजरीवाल दल असभ्य भाषा एवं आरोपों की राजनीति करने में माहिर है।  जहां एक ओर दिल्ली भाजपा अध्यक्ष एवं सांसद श्री मनोज तिवारी ने अपने संसदीय क्षेत्र में सी.सी.टी.वी. कैमरे लगाने के लिए 8 करोड़ रूपये आबंटित किये हैं और अन्य सांसदों ने भी इस कार्य में पहल की है वहीं केजरीवाल दल जिसने चुनाव पूर्व दिल्ली की जनता को सी.सी.टी.वी. की पूर्ण सुरक्षा देने का वायदा किया था वह सत्ता में आने के बाद इस मुद्दे पर केवल राजनीति कर रही है।
 
श्री कुलजीत सिंह चहल ने कहा है कि सी.सी.टी.वी. लगाने का कार्य किसी एक विभाग के करने का कार्य नहीं है, इसमें पुलिस, यातायात पुलिस, लोक निर्माण विभाग, नगर निगमों के अतिरिक्त आर.डब्ल्यू.ए एवं व्यापारिक संगठनों के साथ समन्वय बनाने की आवश्यकता है।  केजरीवाल सरकार इस समन्वय बनाने एवं कार्य शुरू करने पर ध्यान देने की जगह केवल राजनीतिक दुष्प्रचार में लगी है। PIL needs made aware

एक क्लिक में पाइए देश के बाकी सभी हिस्सों सहित दिल्ली का समाचार (Delhi News In Hindi) सबसे पहले Mobilenews24.com पर। Mobilenews24.com से हिंदी समाचार (Hindi News) और अपने मोबाइल पर न्यूज़ पाने के लिए हमारा मोबाइल एप्लीकेशन डाउनलोड करने के लिए इस ब्लू लिंक पर क्लिक करें Mobilenews24.com App और रहें हर खबर से अपडेट।

Delhi News से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए Mobilenews24.com के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें।







Related posts

अलीगढ में हिन्दू संगठन ने हथियार उठाने की अपील की।

admin

सूरजकुंड मेला नहीं गए तो इस न्यूज़ को जरूर पढ़ें

admin

एक क्लिक में जानिए दिल्ली और दुनिया की ख़बरें

admin