राष्ट्रपति का अभिभाषण : कहा बनेगा रवीन्द्रनाथ टैगोर के सपनों का भारत

परंपरा के मुताबिक संसद का सत्र शुरू होने से पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज संसद के दोनों सदनो को सबोधित किया. इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के एजेंडे का खुलासा करते हुए सभी दलों से तीन तलाक और हलाला जैसी कुप्रथाओं को खत्म करने के लिए सहयोग मांगा है. ramnath kovind

उन्होंने मोदी सरकार को किसानों, जवानों और गरीबों के लिए पूरी तरह से समर्पित बताया और कहा कि आजादी के 75 वर्ष पूरे होने तक हम विकास के नए मानकों को हासिल करेंगे.

घर पर पनीर बनाने का आसान तरीका

इस दौरान राष्ट्रपति ने परोक्ष रूप से कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘देश के लोगों ने लंबे समय तक मूलभूत सुविधाओं के लिए इंतजार किया हैं लेकिन परिस्थितियां बदल रही हैं. सरकार के दबाव, प्रभाव या अभाव की स्थिति से जनता को मुक्त करना है.’ ramnath kovind

अपने संबोधन के दौरान राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने कहा कि गुरूदेव रवीन्द्र नाथ ने जिस भारत का सपना देखा था ‘यह नया भारत गुरुदेव के उस आदर्श भारत की ओर बढ़ेगा, जहां लोगों का चित्त भयमुक्त और आत्मा सम्मान से युक्त होगा. उन्होंने यह भी कहा कि नए भारत के रास्ते में सभी व्यवस्थाएं पारदर्शी होंगी और ईमानदार लोगों की प्रतिष्ठा और बढ़ेगी. आपको बता दें कि राष्ट्रपति के इसी अभिभाषण के साथ ही संसद का सत्र शुरू हो गया हैं. ramnath kovind

चोट के कारण शिखर धवन वर्ल्ड से बाहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *