राम मंदिर: फिर मिली तारीख, 15 अगस्त को होगी अगली सुनवाई

विवादित राम मंदिर और बाबरी मस्जिद मामले के समाधान के लिए सर्वोच्च न्यायालय द्वारा गठित मध्यस्थता पैनल ने आज अपनी रिपोर्ट को शीर्ष कोर्ट में पेश किया जहां इस पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने पैनल को इस मामले को सुलझाने के सिए 3 महीने का और समय दिया है. अब इसको लेकर अगली सुनवाई 15 अगस्त को होगी.

कांग्रेस ने राजीव गांधी की हत्या के लिए भाजपा को ठहराया जिम्मेदार

इस मामले को लेकर चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने फैसलै सुनाते हुए कहा कि मध्यस्थता कमिटी की रिपोर्ट को हमने इसे पढ़ा है जिसमें कहा गया है कि इसको लेकर अभी समझौते की प्रक्रिया जारी है और हम अभी रिटायर्ड जस्टिस कलीफुल्ला की रिपोर्ट का अध्ययन कर रहे हैं. पैनल की रिपोर्ट सकारात्मक और आशावादी है.

कोर्ट ने विवादित मामले को और अधिक समय देने को लेकर मध्यस्थता पैनल की मांग को स्वीकार करते हुए कहा कि अगर मध्यस्थता पैनल मामले को सुलझाने के लिए आशावादी विकास के साथ आगे बढ़ रहे हैं और इसके लिए अधिक समय की मांग कर रहे हैं तो समय़ को बढ़ाने में बुराई ही क्या है. वैसे भी यह मुद्दा कई सालों से लटका हुआ है.

बता दें कि इस मामले के निपटारे के लिए शीर्ष न्यायालय ने जिस मध्यस्थता पैनल का गठन किया था उसमें तीन मध्यस्थ शामिल है जिसमें सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस एफएम कलीफुल्ला, आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर और वरिष्ठ वकील श्रीराम पाचू शामिल हैं.

कंप्यूटर की तरह तेज बनाये अपना दिमाग

गौरतलब है कि कुछ हिन्दू पक्षकारों ने इस मामले की सुनवाई के लिए तारीखों को बढ़ाने का विरोध किया था जबकि मुस्लिम पक्षकार इसकी तारीख को बढ़ाने के लिए तैयार थे. हालांकि फिलहाल इसके लिए किए जा रहे प्रयासों को बेहद गोपनीय बताते हुए सुप्रीम कोर्ट ने इस बारे में कुछ भी बताने से इनकार कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *