सीलिंग के केस में सुप्रीम कोर्ट ने मनोज तिवारी को दी अगली तारीख



सीलिंग केस की सुनवाई के लिए भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं उत्तर पूर्वी दिल्ली के सांसद श्री मनोज तिवारी आज सुप्रीम कोर्ट में पेश हुए उनके साथ सांसद श्री रमेश बिधूड़ी, श्री उदित राज, प्रदेश महामंत्री श्री राजेश भाटिया, उपाध्यक्ष श्री राजीव बब्बर, सहित पार्टी से संबंधित कई वकील एवं पदाधिकारी सुप्रीम कोर्ट पहुँचे सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई के लिए आगामी 30 अक्टूबर की तारीख तय कर दी। Supreme Court upheld Manoj Tiwari

सुप्रीम कोर्ट में पेश होने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए श्री मनोज तिवारी ने कहा कि मैं अपने पूर्व स्टैंड पर बरकरार हूँ। दिल्ली में सुप्रीम कोर्ट के नाम पर मॉनिटरिंग कमेटी भ्रष्ट अधिकारियों के साथ मिलकर पिक एंड चूज की पॉलिसी के तहत दिल्ली के एक बड़े वर्ग को परेशान कर रही है। दिल्ली के लाखों लोगों के सामने रोजी-रोटी की समस्या पैदा हो गई है। Supreme Court upheld Manoj Tiwari
श्री मनोज तिवारी ने कहा कि दिल्ली में सीलिंग उद्योग की आड़ में चल रहे भ्रष्टाचार को माननीय सुप्रीम कोर्ट तक पहुँचाना और दिल्ली में मॉनिटरिंग कमेटी की गैर कानूनी सीलिंग से निर्दोष दिल्लीवासियों को न्याय दिलाना हमारा लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि मैं माननीय सुप्रीम कोर्ट के सामने ऐसे भ्रष्ट आचरण के सबूत पेश कर दोषी लोगों के खिलाफ कार्यवाही की माँग कर रहा हूँ। Supreme Court upheld Manoj Tiwari