25 को वीएचपी की धर्मसभा, छावनी में तब्दील अयोध्या

 

राम मंदिर मामले की तारीखों को अगले साल तक टाले जाने के फैसले के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से देशभर के साधु संतों और आरएसएस की तरफ से सरकार पर लगातार इसके लिए संसद मार्ग से हल निकालने का दबाव बनाया जा रहा है. आरएसएस, शिवसेना, विश्व हिन्दू परिषद सहित तमाम संगठन अब सरकार पर अध्यादेश लाने के लिए दबाव बनाने की कवायदों के तहत अयोध्या में इकट्ठे होने शुरू हो गये हैं.VHP’s Synod 25th November

इस बीच शिवसेना के हजारों कार्यकर्ताओं का जत्था भी महाराष्ट्र से अयोध्या के लिए रवाना हो चुका है जिससे यहाँ के लोग सहम से गये हैं. उनके इस डर को इस बात से संझा जा सकता है कि स्थानीय लोगों ने अब लंबे समय तक के लिए राशनों को इकट्ठा करना शुरू कर दिया है. ताकि अगर 1992 की बाबरी विध्वंस वाली परिस्थितियां उत्पन्न होती है तो उस दौरान लोगों को खाने-पीने की समस्याओं का सामना नहीं करना पड़े.

राम खुद नहीं चाहते अयोध्या में बने मंदिर: दिग्विजय

गौरतलब है की विश्व हिन्दू परिषद् और शिवसेना 25 नवंबर को अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए रैलियाँ करने जा रहे हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि वीएचपी की ओर से आयोजित होने वाली इस धर्मसभा में करीब 2 लाख लोग शामिल होने वाले हैं. बता दें कि इस सभा में शामिल होने के लिए खुद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे भी कलश लेकर कल अयोध्या के लिए रवाना होंगे. इस मिट्टी से भरे इस कलश को ठाकरे राम जन्म भूमि के महंत को सौंपने के बाद उद्धव इसकों लेकर संतो के साथ चर्चाएँ भी करेंगे. और सरयू तट पर पूजा करेंगे.  VHP’s Synod 25th November

सरकार ने भी कसी कमर

इतनी बड़ी तादात में लोगों के इकट्ठा होने से सुरक्षा एजेंसियां और सरकार पूरी तरह से सतर्क हो गई है. किसी भी गड़बड़ की आशंका से निपटने और मंदिर परिसर की वर्तमान व्यवस्था को जस की तस बनाये रखने के लिए पूरे शहर में पीएसी और सीआरपीएफ की टीमों की बड़े पैमाने पर तैनाती की गई है. इस बारे में पुलिस प्रशासन ने साफ़ तौर पर कहा है कि परिसर के अन्दर उन्ही को जाने की इजाजत दी जायेगी जो दर्शन के लिए जाना चाहते हैं. VHP’s Synod 25th November

बदन में ऐंठन अकड़न और दर्द का आसान इलाज 

छावनी में तब्दील हुआ शहर

वीएचपी के रोड शो और धर्मसभा के दौरान किसी भी गड़बड़ी से निपटने के लिए प्रशासन ने पएहतियातन पूरे शहर में धारा 144 लगा दिया है. ख़ास बात यह है कि इतनी बंदोबस्त होंबे के बावजूद बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने गुरूवार को रामलला हम आयेंगे मंदिर वहीँ बनायेंगे के नारों के साथ अयोध्या में रोड शो किया. इस दौरान बजरंग दल का यह रोड शो मुस्लिम बहुल इलाकों से भी होकर गुजरा. राहत की बात यह रही कि कड़ी सुरक्षा के कारण कुछ गलत नहीं हुआ. VHP’s Synod 25th November