मंदिर वही बनाएंगे : मोहन भागवत

अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण का मामला सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है और कल 4 जनवरी से इस मामले को लेकर फिर से सुनवाई शुरू होने जा रही है. वही अगर बात अयोध्या में राम मंदिरे के निर्माण कि करे तो इसको लेकर संत समाज से लेकर आम जन भी इस मुद्दे को लेकर केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार से कुछ नाराज़ दिख रही है. वही इस मुद्दे को लेकर अब आरएसएस प्रमुख ने बीते दिन नागपुर में कहा कि अयोध्या में केवल राम मंदिर बनेगा.We will make temple

राफेल: कांग्रेस ने जारी किया आडियो, कहा चौकीदार चोर

आपको बता दे कि आरएसएस प्रमुख का ये बयान 1 जनवरी को पीएम नरेन्द्र मोदी के एक न्यूज़ एजेंसी को दिए गए इंटरव्यू के बाद आय है जिसमे पीएम ने राम मंदिर निर्माण को लेकर कहा था कि न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही अयोध्या में राम मंदिर पर अध्यादेश के संबंध में के कोई फैसला हो सकता है. वही पीएम ने इस बात को भी कहा कि इस  मामले में सरकार अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए सभी प्रयास करने को तैयार है. वही 2 जनवरी को विश्व हिन्दू परिषद् ने भी राम मंदिर के मुद्दे को लेकर बयान दिया की हिन्दू राम मंदिर के मुद्दे पर अदालत के फैसले के लिए अनंतकाल तक तक इंतजार नहीं कर सकते..We will make temple

झरते बालों को फिर से उगाना है तो इसे खाएं या लगाएं

वही वीएचपी ने इस बात को भी कहा कि राम मंदिर निर्माण कि दिशा में आगे बढ़ने का एकमात्र तरीका कानून बनाना है. वही इसी दौरान मोहन भागवत ने ये बयान दिया कि अयोध्या में केवल राम मंदिर ही बनेगा. खैर, ये बात को स्पष्ट है कि जिस तरह आरएसएस लगातार राम मंदिर के मुद्दे पर अपनी राय रख रही है उससे ये स्पष्ट होता है कि आरएसएस जल्द से जल्द अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण चाहती है..We will make temple

बात ये भी है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने सत्ता में आने से पहले ये वादा किया था कि वे अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण करवाएंगे जो कि अभी तक पूरा नहीं हो पाया है. अब देखना ये होगा कि जब कल सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर को लेकर सुनवाई शुरू होगी तो इस मुद्दे पर सुनवाई के बाद किस तरह के तथ्य सामने आते है. .We will make temple

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.