US ने भारतीय मूल के IS में शामिल ‘नए जिहादी जॉन’ को ग्लोबल टेररिस्ट बताया।




अमेरिका ने भारतीय मूल के युवक को वैश्विक आतंकी घोषित किया है। भारतीय मूल के ब्रिटेन में जन्मे और पले सिदार्थ धर उर्फ अबु रुमायशाह ने इस्लाम कबूलने के बाद आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ज्वाइन किया था। जिसके बाद से वो आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के लिए काम कर रहा है। इसी मद्देनजर अमेरिका ने अबु रुमायशाह को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित किया है। अमेरिका के इस घोषणा के बाद उसकी सारी संपत्तियों को जब्त कर लिया गया है और लोगों को निर्देश दिए गए है कि वे ग्लोबल टेररिस्ट अबु रुमायशाह से कोई संबंध न रखें और न ही किसी प्रकार का लेन देन न करें। zihadi jhon global terror 

जानिए क्यों जिन्ना की बेटी पाकिस्तान नहीं गई और भारत में ही बस गई

बता दें अबु रुमायशाह अल  ब्रितानी काफी समय से आईएस में सक्रिय है और उसे कई बार आईएस की वीडियो में देखा गया है। जिसमें मासूम लोगों की निर्ममता से हत्या की गई है। अबु रुमायशाह बंगाली फैमिली का सदस्य है और कुछ समय पहले ही उसने इस्लाम धर्म को कबूला था। zihadi jhon global terror