कश्मीरियों के घर में घुस रही सेना : शहला रशीद

सरकार के खिलाफ मुखर होकर आवाज उठाने वाली जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय की छात्रा और जेएनयू छात्रसंघ की पूर्व नेता शहला रशीद सरकार और सेना के खिलाफ बयान बाजी कर एक बार फिर से चर्चा में हैं. सेना पर बलात्कारी होने का आरोप लगाने वाली शहला इस बार सेना पर झूठे और मनगढ़ंत आरोप लगाने के मामले में फंस गई हैं. kashmir news shehla rashid

दरअसल शहला ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35ए हटाए जाने के बाद घाटी में तैनात सुरक्षाबलों पर घाटी के लोगों के साथ ‘अमानवीय व्यवहार’ करने का दावा करते हुए कहा है कि सेना ने शोपियां जिले के 4 स्थानीय लोगों को अकारण हिरासत में लेकर उन्हें टार्चर कर रही है.

बीते दिन घाटी में चिंताजनक हालात होने का दावा किया और कहा कि सेना के दवान आम लोगों के घरों में घुसकर उन्हें परेशान कर रहे. हालांकि सेना शहला के सभी आरोपों को झूठा और तथ्यहीन बताया है.

दिल्ली में युद्ध स्तर पर चल रहा भाजपा का सदस्यता अभियान

प्रशासन का कहना है कि घाटी के हालात बिल्कुल सामान्य हैं और लोगों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या नहीं. इस बीच बता दें कि घाटी में तेजी से सामान्य होते हालातों के बीच आज से स्कूलों को खोल दिया गया है जहां बच्चे स्कूल जाते देखे गए. kashmir news shehla rashid

हालांकि किसी भी अनहोनी से बचने के लिए घाटी में सुरक्षाबलों को मुस्तैद रखा गया है. वहीं शहला रशीद द्वारा घाटी के हालातों और सेना के बारे में अफवाहें फैलाने के आरोप में सुप्रीम कोर्ट में वकील अलख आलोक श्रीवास्तव ने आपराधिक शिकायत दर्ज कराते हुए कोर्ट से शहला की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है.

गौरतलब है कि कश्मीर में श्रीनगर की रहने वाली शहला रशीद अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ट्विटर पर ही सरकार के खिलाफ य़ुद्ध छेड़ रखा है और वह लगातार सरकार केखिलाफ झूठे और भ्रामक प्रचार करती रहती हैं. kashmir news shehla rashid

जो दवा खुद मर जाता हो क्या वह आपको जीवन दे सकेगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *