रोडवेज कर्मचारियों ने अवैध वाहनों के खिलाफ खोला मोर्चा

राजस्थान के चित्तोरगढ़ में राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की ओर से अवैध वाहनों के खिलाफ राजस्थान रोडवेज के कर्मचारी आज आरटीओ ऑफिस में ज्ञापन देने के लिए पहुंचे. ज्ञापन में यह बताया गया है कि लोक परिवहन सेवा के परमिट आचार संहिता में जारी नहीं हो सकते लेकिन इसेक बावजूद भी पूरे राजस्थान में आचार संहिता के अंतर्गत लोक परिवहन सेवा के परमिट जारी किए जा रहे हैं.

निरहुआ करेंगे करिश्मा या अखिलेश फिर गाड़ेंगे समाजवाद का झंडा

इसी के खिलाफ राजस्थान रोडवेज के कर्मचारी आज एक साथ एकत्रित हुए और चित्तौड़गढ़ प्रादेशिक परिवहन अधिकारी प्रमिला चारण के कक्ष में उन्हें ज्ञापन सौंपा और बताया कि इससे पूरे राजस्थान में 5000 करोड़ का घाटा हुआ है. आपको बता दे की हाई कोर्ट द्वारा लोक परिवहन सेवा पर स्टे लगाया गया है लेकिन उसके बावजूद भी कोर्ट की अवमानना की जा रही है.

कैंफर एयर फ्रेशनर से घर को बनाये खुशबूदार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *