इंद्रधनुष अभियान : तीसरे चरण के नियमित टीकाकरण अभियान की हुई शुरुआत 

– टीका से छूटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं का प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा नियमित टीकाकरण
– अलौली में सीएस और विधायक ने टीकाकरण व बेलदौर में डीडीसी और डीसी ने नवनिर्मित आंगनबाड़ी केंद्र के भवन का किया उदघाटन
खगड़िया, 02 मई-
जिले में सोमवार को साप्ताहिक इंद्रधनुष अभियान के तीसरे राउंड का आगाज हो गया। इस अभियान की शुरुआत जिले के अलौली प्रखंड अंतर्गत जहाँगीरा पंचायत के गोपी टोला में  सिविल सर्जन डाॅ अमरनाथ झा एवं स्थानीय विधायक रामवृक्ष सादा ने संयुक्तरूप से  की। इसके बाद जिले के सभी प्रखंडों में अभियान की शुरुआत हुई और टीका से छूटे बच्चों और गर्भवती महिलाओं का प्राथमिकता के आधार पर नियमित टीकाकरण (आर आई) किया गया। इस मौके पर सिविल सर्जन ने अपने संबोधन में कहा कि गर्भवती महिलाओं और बच्चों को गंभीर बीमारी से बचाव के लिए नियमित टीकाकरण जरूरी है। इससे ना केवल गंभीर बीमारी से बचाव होगा, बल्कि सुरक्षित और सामान्य प्रसव को बढ़ावा भी बढ़ावा मिलेगा।  बच्चों का शारीरिक विकास अवरुद्ध नहीं होगा। इसलिए, मैं जिले के तमाम ऐसे लाभार्थियों से अपील करता हूँ कि जो नियमित टीकाकरण नहीं करा पाएं हैं, वह अपने नजदीकी शिविर स्थलों पर जाकर निश्चित रूप से टीकाकरण कराएं। वहीं, विधायक ने कहा, शत-प्रतिशत लोगों को टीकाकृत करने के लिए यह सबसे बेहतर पहल है। इस मौके पर अलौली पीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ मनीष कुमार, सीडीओ रवीन्द्र नारायण चौधरी, केयर इंडिया के डीटीएल अभिनंदन आनंद, कृष्णा कुमार आदि मौजूद थे। वहीं, दूसरी ओर बेलदौर प्रखंड अंतर्गत तेलिहार पंचायत के वार्ड संख्या 03 में संचालित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 09 के मनरेगा योजना से नवनिर्मित भवन का डीडीसी अभिलाषा कुमार शर्मा एवं आईसीडीएस के जिला समन्वयक अंबुज कुमार ने संयुक्त रूप से उदघाटन किया। इस मौके पर दोनों अधिकारियों  ने कहा, जिले में संचालित अन्य भवनहीन आंगनबाड़ी केंद्र का भी जमीन चिह्नित कर भवन निर्माण कराया जाएगा। इसके बाद यहाँ इंद्रधनुष अभियान के तहत साप्ताहिक नियमित टीकाकरण की शुरुआत हुई। इस मौके पर बीडीओ सुनील कुमार, मनरेगा पीओ विजय कुमार मंडल, एल एस संगीता कुमारी समेत संबंधित केंद्र की सेविका एवं सहायिका सहित अन्य कर्मी मौजूद थे।
– टीका से छूटे गर्भवती और बच्चों का प्राथमिकता के आधार पर किया जाएगा नियमित टीकाकरण :
सीडीओ डाॅ रवीन्द्र नारायण चौधरी ने बताया, सोमवार से जिले में इंद्रधनुष अभियान के तहत साप्ताहिक नियमित टीकाकरण का शुभारंभ हो गया। जिसका 08 मई को समापन होगा। इस दौरान टीका से छूटे गर्भवती और बच्चों को जागरूक कर प्राथमिकता के आधार पर टीकाकृत किया जाएगा। वहीं, उन्होंने बताया, अभियान के सफलतापूर्वक समापन के लिए जिले के सभी स्वास्थ्य संस्थानों के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। ताकि छूटे सभी लाभार्थी टीकाकृत हो सकें और अभियान का सफल संचालन सुनिश्चित हो सके।
– गंभीर बीमारियों से बचाव करता है नियमित टीकाकरण :
केयर इंडिया के डीटीएल अभिनंदन आनंद ने बताया, नियमित टीकाकरण का आयोजन जिले के सभी आंगनबाड़ी केंद्रों पर होता है। जिसके माध्यम से शून्य से दो वर्ष तक के बच्चों को बीसीजी, ओपीवी, पेंटावेलेंट, रोटा वैक्सीन, आईपीवी, मिजल्स, विटामिन ए, डीपीटी बूस्टर डोज, मिजल्स बूस्टर डोज और बूस्टर ओपीवी के टीके लगाए जाते हैं। इसके अलावा अभियान में गर्भवती को टेटनेस-डिप्थीरिया (टीडी) का टीका भी लगाया जाता है।  टीकाकरण अभियान का जिलेभर में सोमवार से शुभारंभ हो गया और  बच्चों और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जा रहा है। नियमित टीकाकरण बच्चों और गर्भवती महिलाओं को कई गंभीर बीमारी से बचाव करता है। साथ ही प्रसव के दौरान जटिलताओं से सामना करने की भी संभावना नहीं के बराबर रहती है।
– अभियान की सफलता को लेकर सभी सेविकाओं को दिए गए हैं जरूरी निर्देश :
आईसीडीएस के जिला समन्वयक अंबुज कुमार ने बताया, इंद्रधनुष अभियान के तहत जिले में शुरू साप्ताहिक नियमित टीकाकरण के तीसरा राउंड की सफलता को लेकर जिले की सभी सेविकाओं को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। साथ ही अभियान के सफल संचालन के लिए मेडिकल टीम को आवश्यक सहयोग करने को कहा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: