एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं को परिवार नियोजन को लेकर दी गई ट्रेनिंग

परिवार नियोजन से संबंधित सामग्री का वितरण और उसके रिकॉर्ड रखने की जानकारी दी गई
जिले में संचार अभियान के तहत परिवार नियोजन को लेकर 31 मार्च तक चलेगा कार्यक्रम

भागलपुर, 4 मार्च

जिले में संचार अभियान के तहत परिवार नियोजन कार्यक्रम चल रहा है| इसे लेकर तमाम तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं| जागरूकता रथ के जरिए लोगों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक किया जा रहा है तो रैली निकालकर भी लोगों को इसकी जानकारी दी जा रही है| गुरुवार को सुल्तानगंज, नवगछिया, नारायणपुर और रंगरा और में आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम को परिवार नियोजन से संबंधित ट्रेनिंग दी गई| इस दौरान इन्हें क्षेत्र में परिवार नियोजन से संबंधित सामग्री के वितरण के बारे में बताया गया| सामग्री के वितरण के बाद उसका रिकॉर्ड किस तरीके से ऑनलाइन रखना है, इसकी जानकारी दी गई|

आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम को परिवार नियोजन से संबंधित बारीकियों से अवगत कराया-
: नारायणपुर में चित्रयुद्ध, संतोष, पूजा, शंकर पासवान, रंगरा में श्वेता कुमारी, सुधीर पासवान, बबलू कुमार धर्मेंद्र कुमार और जगदीश, जबकि सुल्तानगंज में चंदन कुमार, राकेश कुमार, नलिन, शंभू कुमार और प्रतिमा कुमारी वहीं नवगछिया में डॉ अरुण कुमार और डॉ. देवव्रत कुमार, ओम गुप्ता, सुमित कुमार, रविदास, रश्मि कुमारी और प्रिंस ने आशा कार्यकर्ताओं और एएनएम को परिवार नियोजन से संबंधित बारीकियों से अवगत कराया| उन्हें सामग्री के वितरण और उसके रिकॉर्ड रखने के बारे में जानकारी दी|

केयर इंडिया के एफपीसी जितेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि अभी संचार अभियान के तहत 31 मार्च तक जिले में कार्यक्रम आयोजित होंगे| इसके तहत परिवार नियोजन से संबंधित सामग्री का भी वितरण किया जा रहा है| इसे लेकर एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं को जानकारी दी गई| इससे क्षेत्र में परिवार नियोजन को लेकर प्रचार-प्रसार बढ़ेगा और लोग परिवार नियोजन के प्रति जागरूक होंगे|

बिहपुर में लगा अंतरा कैंप: बिहपुर के हरिओ गांव में गुरुवार को अंतरा कैंप लगाया गया| इसमें एएनएम संगीता कुमारी, सरोजिनी कुमारी और उषा कुमारी ने 26 लाभुकों को अंतरा की सुई दी| मौके पर मौजूद औरंगजेब अंसारी, भीम सिंह, शमशाद आलम, विजय कुमार, रितेश कुमार और नसरीन ने महिलाओं को अंतरा के फायदे बताए| महिलाओं को बताया गया कि अंतरा की सुई लेने के बाद वह 3 महीने तक गर्भधारण से बची रह सकती हैं और इसका कोई नुकसान भी नहीं होता है| इसलिए अंतरा की सुई लेकर परिवार नियोजन करें|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *