कुपोषणमुक्त भारत अभियान में सक्रिय भूमिका निभा रही है आंगनबाड़ी सेविका संध्या राय

  • 2019 में आंगनबाड़ी सेविका के रूप में अपना काम शुरू किया था
  • अभी तक कुल 13 कुपोषित बच्चों को एनआरसी मुंगेर में करवा चुकी हैं भर्ती
  • मुंगेर जिला के नॉवागढ़ी क्षेत्र अंतर्गत भगत चौकी वार्ड संख्या 19 के आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 185 पर सेविका के रूप में काम कर रही संध्या

मुंगेर-

आंगनबाड़ी सेविका संध्या राय कुपोषण मुक्त भारत अभियान में सक्रिय भूमिका निभा रही हैं | वह लगातार अपने क्षेत्र से कुपोषित बच्चों को चिह्नित कर सदर अस्पताल परिसर स्थित पोषण एवं पुनर्वास केंद्र में भर्ती करवा रही हैं | ऐसा कर वह बच्चों को कुपोषण से मुक्ति दिलाने में अपनी अहम भूमिका का निर्वहन कर रही हैं| संध्या रॉय मुंगेर जिला के नॉवागढ़ी क्षेत्र अंतर्गत भगत चौकी वार्ड संख्या 19 के आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 185 पर आंगनबाड़ी सेविका के रूप में सन 2019 से काम कर रही हैं | वह अभी तक कुल 13 कुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) में भर्ती करवा चुकी हैं इनमें से दो बच्चों को एनआरसी से घर भेजने के बाद 15 दिनों तक देखरेख करने के बाद स्थिति में ज्यादा सुधार नहीं होने पर दुबारा एनआरसी में भर्ती करवाया तो इसके बाद बच्चा कुपोषण से मुक्त हो सका ।
एनआरसी मुंगेर में कुल 13 कुपोषित बच्चों को भर्ती कराया है-
पोषण पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) मुंगेर की फीडिंग डेमोंस्ट्रेटर रचना भारती ने बताया कि संध्या राय ने एनआरसी मुंगेर में कुल 13 कुपोषित बच्चों को भर्ती कराया है। इनमें से नॉवागढ़ी मुंगेर के रहने वाले रामू पासवान और पिंकी देवी का दो लड़का अभिजीत कुमार और अभिनव कुमार को दो- दो बार एनआरसी में भर्ती करवाना पड़ा। इसके अलावा आगनबाड़ी सेविका संध्या राय ने नॉवागढ़ी के ही रहने वाले संदीप कुमार और अंजनी देवी के 20 माह के कुपोषित बच्चे आयात कुमार को एनआरसी में भर्ती करवाया । भर्ती के वक्त बच्चे के बांह की गोलाई 12.5 सेमी, वजन 8.050 किलो और लंबाई 79.0 सेमी थी ।

इसी तरह संध्या राय ने नॉवागढ़ी के ही रहने वाले विक्की पासवान और नीतू देवी के चार महीने के कुपोषित लड़का लवकुश कुमार और 18 महीने की लड़की हिना भारती को एनआरसी में भर्ती करवाया था। उन्होंने नॉवागढ़ी की ही रहने वाली प्रतिमा कुमारी के 48 महीने के कुपोषित बच्चे को एनआरसी में भर्ती करवाया। भर्ती के वक्त बच्चे के बांह की गोलाई 13 सेमी, वजन 9.950 किलो और लंबाई 89 सेमी थी

उन्होंने बताया कि आंगनबाड़ी सेविका संध्या राय ने भगत चौकी के रहने वाले मनोहर पासवान और हीना देवी की तीन- तीन कुपोषित बेटियों 54 माह की रिया कुमारी, माही कुमारी और हेमा कुमारी को कुपोषण से मुक्ति दिलाने के लिए एनआरसी मुंगेर में भर्ती कराया । इसके अलावा संध्या राय ने भगत चौकी के ही रहने वाले छोटू पासवान और नीतू देवी की एक बेटी देविका कुमारी और एक बेटा देवराज कुमार को कुपोषण से मुक्ति के लिए एनआरसी मुंगेर में भर्ती कराया ।
एनआरसी मुंगेर में अभी कुल 22 कुपोषित बच्चों का इलाज चल रहा
पोषण एवं पुनर्वास केंद्र (एनआरसी) के नोडल अधिकारी विकास कुमार ने बताया कि विगत 29 जुलाई को दो महीने के एक अति कुपोषित बच्चे को एनआरसी मुंगेर में भर्ती किया गया है। बच्चे का वजन मात्र 2.020 किलो और लंबाई 54 सेमी है। एनआरसी मुंगेर में अभी कुल 22 कुपोषित बच्चों का इलाज चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: