कोरोना का टीका लगवाएं और गाइडलाइन का भी पालन करें

• टीका को लेकर किसी तरह की दुविधा में नहीं रहें, पूरी तरह से है सुरक्षित

• कोरोना की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग हर तरफ से है तैयार

बांका-

कोरोना की रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग लगातार प्रयास कर रहा है. शुरुआत में कोरोना का संक्रमण रोकने के लिए जांच की व्यवस्था की गई. बाद में जांच का दायरा बढ़ाया गया. कोरोना मरीजों के इलाज को लेकर अस्पतालों में व्यवस्था की गई. अब टीका भी आ गया है. बहुत सारे लोग टीके को लेकर दुविधा में भी ह. ऐसे लोगों को सकारत्मक होने की जरूरत है. कोरोना का टीका पूर्णता सुरक्षित है. इस बात की पुष्टि स्वास्थ्य कर्मी ख़ुद टीका लगवाकर भी कर रहे हैं. ऐसा कहना है शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉ सुनील कुमार चौधरी का. वह कहते हैं कोरोना का टीका बनाने के पहले सारी प्रक्रियाओं को अपनाया गया है. हर तरह से सुरक्षित हो जाने के बाद टीकाकरण का फैसला किया गया. इसलिए कोरोना के टीके को लेकर किसी तरह के भ्रम में नहीं रहें. बिना किसी भय के कोरोना का टीका लगवाएं. ऐसा नहीं कि टीका ले लेने के बाद बेफिक्र हो गए. टीका लगाने के बाद भी कोरोना की गाइडलाइन का पालन करें. इससे ना सिर्फ कोरोना से बचाव होगा, बल्कि अन्य बीमारियों से बचाव सुरक्षित रहेंगे.

कोरोना से ठीक हो गए हैं तो भी टीका लगवाएं: बहुत सारे लोग कहते हैं कि वह कोरोना से ठीक हो चुके हैं. उन्हें टीका लगवाने की जरूरत नहीं है. ऐसा बिल्कुल भी नहीं करें. कोरोना से अगर आप ठीक हो गए हैं तो इसका यह मतलब नहीं कि आप दोबारा इसकी चपेट में नहीं आएंगे. इसलिए टीका लगवाना जरुरी है. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही. आपके साथ रहने वाले लोग भी सुरक्षित हो जाएंगे.

अधिक उम्र के लोग भी लगवा सकते हैं टीका:. अधिक उम्र वालों को भी टीका लगवाने के लिए और आगे आना चाहिए. जिनकी उम्र अधिक होती है उनके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो जाती है. ऐसे में अधिक उम्र वाले लोग निश्चित तौर पर टीका लगवाएं. साथ ही अगर कोई गंभीर बीमारी हो तो भी टीका लगवाने से परहेज न करें. गंभीर तौर पर बीमार लोग की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है. इसलिए ऐसे लोग भी टीका लगवाने के लिए आगे आएं.

भीड़ में जाने से बचें, सामाजिक दूरी का पालन करें: जिन लोगों ने कोरोना का टीका नहीं लगवाया है, उनको सामाजिक दूरी का पालन करना ही चाहिए और भीड़ में जाने से बचना चाहिए, लेकिन जिन लोगों ने टीका लगवा लिया है उन्हें भी इस तरह की सावधानी बरतनी चाहिए. सावधानी बरतने में किसी तरह की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए. ऐसा करने से आपके साथ दूसरे लोग भी सुरक्षित रहेंगे. याद रखें टीके की दो डोज है. दूसरा डोज पहले डोज के 28 वें दिन बाद लगाया जाएगा. दूसरे डोज के 14 दिन के बाद ही कोरोना वायरस के खिलाफ़ रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: