कोरोना का टीका लेने से नहीं होता है कोई साइड इफेक्ट: डॉ विनोद कुमार

-मैंने भी टीका लिया, आप भी लेकर समाज के प्रति अपना कर्तव्य निभाएं
-कोरोना का टीका लेकर ही हम वायरस की चेन तोड़ने में हो पाएंगे सफल

भागलपुर, 22 जनवरी
‘कोरोना का टीका लेने से किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है. मैंने टीका लिया. मुझे कुछ नहीं हुआ. जिले में अब तक 4 दिन टीकाकरण हुआ है. अभी तक किसी को कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है. इसलिए डरिए मत. कोरोना का टीका लेकर समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी को निभाएं. कोरोना का टीका लेकर ही हम कोरोना की चेन तोड़ने में सफल हो पाएंगे.’ यह कहना है नारायणपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के डॉ विनोद कुमार का. इन्होंने टीकाकरण के पहले दिन 16 जनवरी को टीका लिया. 7 दिन हो गया है इन्हें टीका लिए हुए, लेकिन किसी भी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं हुआ है. डॉ विनोद कुमार कहते हैं कि कुछ शरारती लोग इस तरह की अफवाह फैला रहे हैं. अभी तक इस तरह का कोई मामला नहीं आया है कि टीका लेने से किसी को कोई नुकसान हुआ हो. इसलिए कोरोना का टीका लेने के लिए आगे आएं. अगर आप टीका लेंगे, तभी हम कोरोना को खत्म कर पाएंगे.

बहुत सोच समझकर बनाया गया है टीकाकरण कार्यक्रम:
डॉ विनोद कुमार कहते हैं कि टीकाकरण को तीन चरणों में बांटा गया है. पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मी को रखा गया है. दूसरे चरण में गंभीर बीमारी के मरीज, बुजुर्ग और सरकारी कर्मियों को रखा गया है. आखिरी चरण में आमलोगों को रखा गया है. ऐसा सरकार ने बहुत सोच समझकर किया है. दरअसल, पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को रखा गया है. स्वास्थ्यकर्मी इसकी बारीकियों से अवगत होते हैं, इसलिए उन्हें चुना गया है. दूसरे चरण में जरूरतमंद लोगों को चुना गया है. इन दोनों पर जब टीका पूरी तरह से सफल हो जाएगा, फिर आमलोगों को इस दायरे में रखा गया है.
कोरोना से ठीक हुए लोगों को भी टीका लेने के लिए आगे आना चाहिए:
डॉ विनोद कुमार कहते हैं कि ऐसा बिल्कुल भी नहीं सोचना चाहिए कि हम कोरोना से ठीक हो गए हैं तो दोबारा नहीं होगा. कोरोना से ठीक हुए लोगों को भी टीका लेने के लिए आगे आना चाहिए. जो अभी पीड़ित हैं कोरोना से वे 14 दिन की अवधि पूरी होने के बाद ही टीका लें. कोरोना का टीका सभी को लेना जरूरी है. सभी लोग टीका लेंगे, तभी कोरोना की चेन टूटेगी.

टीका लेने के बाद नशे से रहें दूर:
डॉ. विनोद कुमार कहते हैं कि टीका लेने के बाद नशे का सेवन न करें. शराब का सेवन तो बिल्कुल भी नहीं. वैसे भी शराब बिहार में प्रतिबंधित है. स्वास्थ्य के लिए तो यह नुकसानदायक है ही, कानूनी तौर पर भी अपराध है. टीका के शोध में यह बात सामने आई है कि नशे के सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है, जिससे टीका पूरी तरह से काम नहीं कर पाएगा. टीका से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता ही बढ़ती है. इसके बाद वह शरीर में एंटीबॉडी को विकसित करता है. इसलिए टीका लेने के बाद नशे का सेवन नहीं करें.

टीका लेने के बाद भी गाइडलाइन का करें पालन:
डॉ. विनोद कुमार कहते हैं कि कोरोना का टीका लेने के बाद भी जो सरकार की गाइडलाइन है, उसका पालन करना चाहिए. लोगों को मास्क पहनना चाहिए और सामाजिक दूरी का पालन करना चाहिए. ऐसा करने से न सिर्फ कोरोना से बचाव होता है, बल्कि दूसरी भी कई संक्रामक बीमारियों से बचाव होता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *