कोरोना महामारी से बचाने के लिए टीका एक्सप्रेस के माध्यम से लोगों के घर के पास ही दी जा रही है टीकाकरण कि सुविधा

  • पिछले 26 मई से जिले के सभी प्रखण्डों में पंचायत स्तरीय गांव के विद्यालय या अन्य सार्वजनिक स्थानों पर टीका एक्सप्रेस के माध्यम से जारी है टीकाकरण
  • 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का किया जा रहा है टीकाकरण

लखीसराय , 08 जून 2021 : कोरोना महामारी किकी विभीषिका से जिले वासियों को बचाने के लिए 45 से अधिक उम्र के सभी लोगों को उनके घर के पास ही टीका एक्सप्रेस के माध्यम से टीकाकरण कि सुविधा उपलब्ध कराई गई है। उक्त बातें लखीसराय के जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. अशोक कुमार।भारती ने कही।
उन्होंने बताया कि पिछले महीने की 26 तारीख से ही जिले के सभी प्रखंडों में टीका एक्सप्रेस के माध्यम से किसी एक पंचायत के गांव में स्कूल या अन्य सार्वजनिक स्थान पर टीकाकरण शिविर आयोजित कर 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है।

कुछ भ्रांतियों की वजह से टीकाकरण सत्र स्थल पर कम संख्या में आ रहे हैं लोग :
डॉ. भारती ने उन्होंने बताया कि जिले के लगभग सभी प्रखंडो में मन में बैठी कुछ भ्रांतियों की वजह से टीकाकरण सत्र स्थल पर कम संख्या में आ रहे 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग आ रहे हैं। 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि सभी जिले वासी अपने मन में पनप रही इस भ्रांति को दूर कर लें कि वैक्सीन की वजह से किसी के भी साथ कोई अनहोनी होने वाली है। वैक्सीन तो इस बात को ध्यान में रखकर तैयार की गई है कि कोरोना वायरस के संक्रमण से किसी के साथ कोई अनहोनी न हो। लेकिन लोगों ने इसे उल्टा समझ लिया कि वैक्सीन की वजह से ही परेशानी होती है। भारत सरकार के द्वारा हमलोगों के बीच उपलब्ध कराई गई दोनों ही वैक्सीन पूरी तरीके से सुरक्षित और सौ फीसदी प्रभावी है।

टीका एक्सप्रेस के माध्यम से वैक्सीनेशन के लिए लोगों को किया जा रहा है जागरूक :

सूर्यगढ़ा प्राथमिक स्वास्थ्यय केंद्र में कार्यरत आरबीएसके के डॉक्टर और टीका एक्सप्रेस से लोगों का टीकाकरण के लिए जाने वाली एक टीम के नेतृत्व कर्ता डॉ. दिनेश प्रसाद मंडल ने बताया कि गांवों में कुछ भ्रांति के कारण 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोग टीका नहीं लेना चाहते हैं। इन सभी लोगों को मैं खुद वैक्सीन के बारे में सही जानकारी देकर उनके मन में भ्रांतियों को काफी हद तक दूर करने का प्रयास कर रहा हूँ ताकि लोग वैक्सीनेशन के लिए आगे आ सके और खुद के साथ ही अपने परिवार के सदस्यों और समाज के लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचा सके। उन्होने बताया कि क्षेत्र में काम करने वाली आशा कर्मी, आंगनबाड़ी सेविका-सहायिका के साथ- साथ एएनएम भी घर- घर जाकर लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से सुरक्षित करने को ले टीकाकरण के लिए प्रेरित कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: