कोरोना वायरस के संक्रमण कम होने और लॉक डॉउन के समाप्त होने के बाद आगामी 1 जुलाई से जिले में शुरू हो सकती है शैक्षणिक गतिविधियां

  • राज्य सरकार के निर्देशानुसार 1 जुलाई से खुल सकते हैं 9 से 12 क्लास के स्कूल कॉलेज और कोचिंग संस्थान
  • प्राथमिक स्कूल और 5 से 8 कक्षा तक के स्कूल अभी रहेंगे बंद
  • 1 जुलाई से सिर्फ शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों के लिए खुलेंगे स्कूल, समीक्षा के बाद ही बच्चों के लिए शुरू होगा पठन- पाठन का कार्य

मुंगेर, 16 जून 2021 :

जिले में तेजी से कम हो रहे कोरोना वायरस से संक्रमण मामले को देखते हुए पिछले 9 जून से लॉक डॉउन के समाप्त करते हुए अनलॉक की शुरुआत की गई है। जिले में 9 से 15 जून तक अनलॉक 1 और 16 से 22 जून तक अनलॉक 2 जारी है। इन्ही बदली परिस्थितियों को देखते हुए संभव है कि आगामी 1 जुलाई से जिले में शैक्षणिक गतिविधियां शुरू हो जाय। संभव है कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार 1 जुलाई से कोरोना गाइड लाइन का पूरी तरीके से पालन करते हुए 9 से 12 वीं क्लास के स्कूल – कॉलेज और कोचिंग संस्थान बच्चों के लिए पठन- पाठन का कार्य शुरू हो जाय ।
शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी के कथनानुसार 1 जुलाई से कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए सिर्फ शिक्षकों और अन्य कर्मचारियों के लिए प्राथमिक स्कूल और कक्षा 5 से लेकर 8 तक के स्कूल खुलेंगे। इसके बाद समीक्षा के होने पर परिस्थितियां अनुकूल पाए जाने के बाद ही बच्चों के लिए पठन- पाठन का कार्य शुरू हो पाएगी ।

मार्च 2020 से जिले में लगातार बंद बच्चों की पढ़ाई- लिखाई और शैक्षणिक गतिविधियां ठप रहने पर क्या कहते हैं जिले के शिक्षक- शिक्षिकाएँ :

मध्य विद्यालय नवादा शंकरपुर मुंगेर के शिक्षक राजेश कुमार यादव ने बताया कि जिले में पिछले साल के मार्च महीने से ही शैक्षणिक गतिविधियां ठप है। इस साल के फरवरी – मार्च के महीने में यह संभावना बनी थी कि अब बच्चों के लिए पढ़ाई- लिखाई शुरू हो जाएगी । लेकिन एक बार फिर से जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ने के बाद लॉक डॉउन लगाने के साथ ही स्कूलों को बंद करा दिया गया। अब जिले भर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए व्यापक स्तर पर कोरोना टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि उन्होंने अपने पूरे परिवार के साथ कोरोना टीका दोनों डोज ले लिया है। साथ ही वह अपने आसपास रहने वाले सभी लोगों को लगातार वैक्सीन के पूरी तरीके से सुरक्षित और प्रभावी होने की जानकारी देते हुए वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित कर भी कर रहे हैं.
गौरीपुर मध्य विद्यालय मुंगेर के शिक्षक चुन्नू जी ने बताया कि जिले में कोरोना वायरस का संक्रमण कम होने के बाद यह उम्मीद जगी है कि बहुत ही जल्द जिले में शैक्षणिक गतिविधियां एक बार फिर से शुरू हो पाएगी और स्कूल और कॉलेज छात्र- छात्राओं से गुलजार हो पाएंगे। इसके लिए आवश्यक है कि जिले भर के सभी शिक्षक अपने पूरे परिवार सहित कोरोना का टीका ले ताकि स्कूल के खुलने के बाद बच्चों के कोरोना संक्रमित होने की संभावना कम से कमतर हो सके। उन्होंने कहा, ‘‘मैने अपने पूरे परिवार के साथ कोरोना का टीका ले लिया है साथ ही अपने आसपास रहने वाले 45 वर्ष से अधिक उम्र के सभी लोगों को टीका एक्सप्रेस के माध्यम से टीका लेने के लिए प्रेरित कर रहे हैं’’।

प्राथमिक विद्यालय नया छावनी बरियारपुर, मुंगेर में कार्यरत शिक्षिका सुषमा कुमारी ने बताया ‘‘कोरोना संक्रमण और लॉक डॉउन के दौरान समाज के प्रति अपनी जिम्मेदारी समझते हुए अपने सम्पर्क में आने वाले सभी लोगों को वैक्सीन के बारे में सही जानकारी देते हुए टीका लेने के लिए प्रेरित करती रही है। मैने खुद अपने पूरे परिवार के साथ कोरोना वायरस से संक्रमण से बचने के लिए कोरोना वैक्सीन का दोनों डोज ली हूं। इसके साथ ही अपने आसपास के लोगों को वैक्सीन के बारे में उसके पूरी तरीके से सुरक्षित और सौ फीसदी प्रभावी होने के बारे में जानकारी दे रही हूँ ताकि सभी लोग टीकाकरण के प्रति जागरूक होकर टीका ले सकें’’।

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. पंकज सागर ने बताया कि जिले भर में अभी टीका एक्सप्रेस के माध्यम से और विशेष टीकाकरण शिविर आयोजित कर सभी लोगों का टीकाकरण किया जा रहा है। मुंगेर नगर निगम क्षेत्र के सभी 45 वार्ड में भी टीका एक्सप्रेस के माध्यम से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को कोरोना कि वैक्सीन लगाई जा रही है। इसके साथ ही जिले में शिक्षकों के टीकाकरण के लिए विशेष रूप से टीकाकरण अभियान चलाया गया है। भविष्य में भी संभव है कि शिक्षकों के लिए विशेष तौर पर शिविर आयोजित उनका टीकाकरण किया जा सके ताकि भविष्य में जिले में स्कूलों के खुलने और शैक्षणिक गतिविधयां शुरू होने के बाद कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा बिल्कुल समाप्त हो जाय और जिला जल्द से जल्द कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्त हो जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *