खगड़िया जिले में फाइलेरिया उन्मूलन को चलेगा एमडीए अभियान, आशा कार्यकर्ताओं को दिया गया प्रशिक्षण

  • जिले के परबत्ता सीएचसी में स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया के प्रशिक्षण में सभी आशा कार्यकर्ता हुई शामिल
  • बारी-बारी से जिले के सभी आशा कार्यकर्ताओं को दी जाएगी ट्रेनिंग

खगड़िया, 17 अगस्त –

जिले में फाइलेरिया उन्मूलन के लिए एमडीए (मास ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन) अभियान चलेगा। जिसकी सफलता को लेकर मंगलवार को जिले के परबत्ता सीएचसी में स्वास्थ्य विभाग एवं केयर इंडिया के संयुक्त तत्वावधान में स्वास्थ्य विभाग से जुड़ी आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें प्रखंड की सभी आशा कार्यकर्ता शामिल हुईं। प्रशिक्षण केयर इंडिया के बीसी-भीएल श्रवण कुमार के द्वारा दिया गया। जिसमें आशा कार्यकर्ताओं को उक्त अभियान को सफल बनाने के लिए विस्तृत जानकारी दी गई एवं इस बीमारी पर रोकथाम एवं इससे बचाव के लिए लोगों को दी जाने वाली जानकारियाँ को भी बताया गया।

  • गर्भवती महिलाओं एवं गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के अलावा दो वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को भी नहीं खिलाई जाएगी दवा :
    केयर इंडिया के डीटीएल अभिनंदन आनंद ने बताया, इस अभियान के दौरान घर-घर जाकर लोगों को एलबेंडाजोल एवं डीईसी की दवाएं खिलाई जाएगी। उक्त दवा गर्भवती महिलाओं एवं गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति के अलावा दो वर्ष से कम आयु वर्ग के बच्चों को छोड़कर शेष सभी लोगों को आशा कार्यकर्ताओं द्वारा खिलाई जाएगी। साथ ही इस बीमारी से बचाव के लिए आवश्यक जानकारी देते हुए जागरूक किया जाएगा । ताकि उक्त अभियान का सफलतापूर्वक समापन एवं बीमारी पर रोकथाम संभव और जड़ से खात्मा हो सके। वहीं, बताया, यह प्रशिक्षण जिले के सभी प्रखंडों में कार्यरत आशा कार्यकर्ताओं को निर्धारित तिथि के अनुसार बारी-बारी से दिया जाएगा।
  • अभियान के दौरान परिवार के सदस्यों के विवरण की भी ली जाएगी जानकारी :
    केयर इंडिया के डीटीओ-ऑन चंदन कुमार ने बताया, अभियान के दौरान प्रत्येक परिवार के सदस्यों के विवरण की भी जानकारी ली जाएगी। जैसे, परिवार में कुल कितने सदस्य हैं। सभी नाम, उम्र समेत अन्य जानकारी प्राप्त पंजी में पूरा डिटेल दर्ज किया जाएगा। साथ ही दो वर्ष से छोटे बच्चे, गंभीर बीमारी से पीड़ित व्यक्ति एवं गर्भवती व एक सप्ताह पूर्व माँ बनी महिलाओं के भी विवरण लेकर अलग पंजी में दर्ज किया जाएगा। क्योंकि, ऐसे लोगों को दवाई नहीं खिलाई जाएगी।
  • बचाव के लिए दवाई का सेवन जरूरी :
    प्रशिक्षक श्रवण कुमार ने बताया, इस बीमारी से बचाव के लिए दवाई के साथ-साथ एहतियात भी जरूरी है। इसलिए, अभियान के दौरान योग्य व्यक्तियों को दवाई तो खिलाई ही जाएगी। इसके अलावा इस बीमारी से बचाव के लिए लोगों को आवश्यक जानकारी भी दी जाएगी। जैसे कि, घर के आस-पास गंदगी जमा नहीं होने दें एवं घरों में सोने से पहले मच्छरदानी का उपयोग करें। साथ ही अन्य लोगों को दवा सेवन के प्रति जागरूक भी करें, ताकि फाइलेरिया जैसी बीमारी जड़ से समाप्त हो सके। इस बीमारी को पूरी तरह से मिटाने के जागरूकता भी बेहद जरूरी है।
    इन मानकों का करें पालन और कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :
  • मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।
  • बारी आने पर निश्चित रूप से वैक्सीनेशन कराएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।
  • विटामिन-सी युक्त पदार्थों का अधिक सेवन करें।
  • नियमित तौर पर लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से अच्छी तरह हाथ धोएं।
  • साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें और सेनेटाइजर का उपयोग करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Notice: Undefined index: amount in /home/u709339482/domains/mobilenews24.com/public_html/wp-content/plugins/addthis-follow/backend/AddThisFollowButtonsHeaderTool.php on line 82
%d bloggers like this: