छोटा व खुशहाल परिवार के लिए परिवार नियोजन के साधन को अपनाना जरूरी

  – कोविड के दौर में भी जिले में चल रहा परिवार नियोजन सेवा पखवाड़ा, -अस्पतालों में सुरक्षा के हर मानकों का रखा जाता है ख्याल – 17 से 29 जनवरी तक जिले के सभी पीएचसी में चलेगा परिवार नियोजन सेवा पखवाड़ा  

लखीसराय, 18 जनवरी-

हर परिवार खुशहाल परिवार की जिंदगी जीने और अपने बच्चे को उचित रहन-सहन के बीच रखना चाहते हैं। किन्तु, ऐसा आसान भी नहीं है। थोड़ी सी लापरवाही इन सारे सपनों को पूरा होने के पूर्व ही तोड़ देते हैं। इसलिए, खुशहाल परिवार के लिए छोटा और सीमित परिवार होना जरूरी है। इसको लेकर सरकार तमाम गतिविधि  भी आयोजन कर समाज के प्रत्येक व्यक्ति को जागरूक भी कर रही है। स्थानीय पीएचसी स्तर पर मुफ्त परिवार नियोजन ऑपरेशन की व्यवस्था उपलब्ध है। दरअसल, छोटा और खुशहाल परिवार के लिए परिवार नियोजन के साधन को अपनाना  बेहद जरूरी है। इसलिए, अफवाहों से दूर रहें और पुराने ख्यालात से बाहर आकर परिवार नियोजन के साधन को अपनाने पर बल दें। जिले के सभी सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में कोविड के दौर में भी परिवार नियोजन पखवाड़ा जारी है। सभी जगह कोविड-19 के प्रोटोकॉल के पालन के साथ बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा के हर मानकों का भी ख्याल रखा जाता है।  – अफवाहों से रहें दूर, निर्भीक होकर कराएं ऑपरेशन : डीसीएम पारस मणि ने बताया, जिले के सभी पीएचसी में परिवार नियोजन ऑपरेशन की सुविधा उपलब्ध है। ताकि इच्छुक लोगों को ऑपरेशन के दौरान किसी प्रकार परेशानी का सामना नहीं करना पड़े और अपने नजदीकी स्वास्थ्य संस्थान में आसानी के साथ ऑपरेशन करा सकें। वहीं, उन्होंने कहा कि ऑपरेशन के लिए इच्छुक महिलाओं को अफवाहों से दूर रहना चाहिए और निर्भीक होकर सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों में ऑपरेशन करानी चाहिए। ऑपरेशन के दौरान अस्पतालों में सुरक्षा के हर मानकों का ख्याल रखा जाता है।  – 17 से 29 जनवरी तक चलेगा पखवाड़ा : केयर इंडिया के एफपीसी अनुराग गुंजन ने बताया, जिले के सभी पीएचसी में 17 जनवरी  से ही परिवार नियोजन (बंध्याकरण) सेवा पखवाड़ा का शुभारंभ हो चुका है। जो आगामी 29 जनवरी तक चलेगा। जिसके दौरान योग्य और सक्षम इच्छुक लाभार्थियों का कोविड प्रोटोकॉल के पालन के साथ बेहतर स्वास्थ्य सुविधा के बीच ऑपरेशन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।  – एएनएम और आशा के सहयोग से लोगों को किया जा रहा है जागरूक : इस पखवाड़े के सफल क्रियान्वयन के लिए एएनएम एवं आशा कार्यकर्ता द्वारा लोगों को ऑपरेशन के लिए जागरूक किया जा रहा है । इच्छुक महिलाओं की सूची तैयार स्थानीय पीएचसी को सुपुर्द की जाती है। महिलाओं को ऑपरेशन के दौरान पीएचसी की सुरक्षा-व्यवस्था की भी जानकारी दी जा रही है। ताकि अधिक से अधिक लोग ऑपरेशन के प्रति रुचि लें और कार्यक्रम का सफल क्रियान्वयन सुनिश्चित हो सके।  – महिलाओं को वैकल्पिक व्यवस्था की भी दी जा रही है जानकारी : पखवाड़े की सफलता को लेकर जिले में योग्य लाभार्थियों को जागरूक करने के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा वैकल्पिक व्यवस्था की भी जानकारी दी जा रही है। जैसे कि कोई महिला ऑपरेशन के लिए इच्छुक है किन्तु, वह शारीरिक रूप से कमजोर है। मसलन, उनका शरीर ऑपरेशन के लिए सक्षम नहीं है तो ऐसे महिलाओं को वैकल्पिक व्यवस्था की जानकारी दी जा रही है। जिसमें कंडोम, अंतरा, छाया, काॅपर-टी समेत अन्य अस्थाई उपायों को अपनाकर अनचाहे गर्भ से दूर रहने की जानकारी दी जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार कंडोम ना सिर्फ अनचाहे गर्भ से दूर रखता है, बल्कि यौन संचारित रोगों से भी बचाव करता है।  – इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 संक्रमण से रहें दूर :- – मास्क का उपयोग और शारीरिक दूरी का पालन जारी रखें।- अनावश्यक घरों से बाहर नहीं निकलें और भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।- लक्षण महसूस होने पर कोविड-19 जाँच कराएं।- नियमित तौर पर लगातार साबुन या अल्कोहल युक्त पदार्थों से अच्छी तरह हाथ धोएं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: